छात्रों के चतुर्मुखी विकास के लिये खेलकूद जरूरी, देखें वीडियो

Hariom Dwivedi

Publish: Jan, 14 2018 01:55:24 (IST)

Auraiya, Uttar Pradesh, India

औरैया. जनपद के सहार स्थित मुन्नूलाल द्विवेदी महाविद्यालय में खेलकूद प्रतियोगिता का शुभारंभ प्रबंध समिति के अध्यक्ष लालाराम शुक्ल ने किया। शुक्ल ने छात्र छात्राओं को खेलकूद के महत्व से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि छात्र के चतुर्मुखी विकास के लिए खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाना आवश्यक है। पाठ्य सह गामी क्रियाएं बालकों के शारीरिक विकास मानसिक विकास एवं संवेदनात्मक भावनाओं को विकसित कर उसे श्रेष्ठ नागरिक बनाने में सहायक होती हैं।

इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. धीरेंद्र सिंह सेंगर में छात्र-छात्राओं को खेलकूद प्रतियोगिता में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का विकास होता है। छात्र-छात्राओं को खेलकूद प्रतियोगिता में सेवा करना चाहिये। उनमें आपस में प्रेम की भावना के साथ मिल कर कार्य करने की प्रेरणा की जागृति होगी। बालक खेलकूद प्रतियोगिता में प्रतिभाग कर अपना नाम देश में रोशन कर सकते हैं।

100 मीटर की बालक वर्ग दौड़ में प्रथम स्थान हर्षित शुक्ला द्वितीय स्थान ऋषभ द्विवेदी व बालिकाओं में प्रथम स्थान कल्पना द्वितीय स्थान अर्चना तृतीय स्थान प्रेम कुमारी महाविद्यालय में कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, जिनमें 200 मीटर बालिका दौड़ गोला फेंक लंबी कूद ऊंची कूद खो-खो प्रतियोगिता शतरंज प्रतियोगिता आदि का आयोजन किया गया। महाविद्यालय में खेलकूद प्रभारी ने अपनी देखरेख में प्रतियोगिता संपन्न कराई।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned