मुझे भर्ती करो नहीं तो फैला दूंगा Coronavirus, मरीजों की ऐसी दुर्दशा, राजभवन के कईं कर्मी पॉजिटिव

भाजपा प्रदेश मुख्यालय में संक्रमण की जोरदार दस्तक के बाद अब राजभवन में भी बीस से अधिक कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए (Coronavirus Entered In Bihar Raj Bhawan 20 Employees Tested Positive) (Bihar News) (Coronavirus Cases In Bihar) (Bihar Coronavirus Update)...

By: Prateek

Published: 15 Jul 2020, 06:06 PM IST

प्रियरंजन भारती

पटना,औरंगाबाद: कोरोना महामारी की चपेट में आने से बिहार के प्रशासनिक और पुलिस महकमे समेत सभी क्षेत्रों में खलबली मच गई है। भाजपा प्रदेश मुख्यालय में संक्रमण की जोरदार दस्तक के बाद अब राजभवन में भी बीस से अधिक कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। राजधानी पटना में 125 नए मामले सामने आने से बुधवार को संक्रमितों की संख्या 1,259 पहुंच गई। जबकि पूरे प्रदेश में 243 नए संक्रमित पाए गए और बिहार का आंकड़ा बढ़कर 20133 पहुंच गया। बीमारी से 13,320 लोग ठीक हुए हैं जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 145 हो गईं।

यह भी पढ़ें: Sushant suicide case में सलमान खान से नहीं की जाएगी पूछताछ, मुंबई पुलिस ने किया खुलासा

रजभवन में बीस से अधिक कर्मी संक्रमित

भाजपा प्रदेश मुख्यालय में एक साथ 75 लोगों के संक्रमित होने के बाद अब राजभवन में भी कोरोना महामारी ने दस्तक दे दी है। यहां कार्यरत बीस कर्मियों के नमूने पॉजिटिव पाए गए हैं। बिहार के प्रशासनिक और पुलिस महकमें के भीतर भी कोरोना की पकड़ मजबूत होने से दहशत फ़ैल गई है। राजधानी पटना के दो डीएसपी संक्रमित पाए गए। वहीं राज्य के एक अंडर सेक्रेटरी की इस बीमारी से मौत हो गई। कोरोना संक्रमण की आहट बड़े अस्पताल पीएमसीएच और पुलिस महकमें में भी जोरदार तरीके से हो चुकी है। सरकार के मंत्री भी इससे अछूते नहीं रह गए। बढ़ते आंकड़ों के बीच अच्छी बात यह कि 13,320 लोग ठीक हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें: Amitabh Bachchan की यह फिल्म Jaya Bachchan को नहीं थी पसंद, स्क्रीनिंग के बीच से उठकर चली गईं थी एक्ट्रेस

मरीजों के इलाज से अस्पतालों की आनाकानी

सरकार ने भयावह हालात होने के बाद संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा तो कर दी मगर पॉजिटिव पाए जाने के बाद मरीजों के इलाज की मुकम्मल व्यवस्था नहीं होने से अफरातफरी का माहौल है। कोरोना मरीजों की भर्ती में ज्यादातर अस्पताल आनाकानी कर रहे हैं। पटना के आइजीआइएमएस में एक कोरोना संक्रमित को दाखिला दिलाने के लिए उसके परिजन आरज़ू मिन्नत करते रहे लेकिन उसे दाखिला नहीं मिल सका। अन्ततः मरीज की मौत हो गई। उधर सासाराम में एक कोरोना संक्रमित मरीज के हंगामे के बाद उसे एंबुलेंस से सदर अस्पताल लाकर भर्ती किया गया। उसने दाखिला नहीं मिलने पर अस्पताल में चिकित्सकों और अन्य कर्मियों को छूकर संक्रमित कर देने का काम करना शुरु कर दिया था। इससे थक हारकर सिविल सर्जन ने उसे तत्काल ‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌भर्ती कराने के आदेश दिए। सूबे के अधिकांश अस्पतालों का यही हाल है। कोरोना मरीजों को भगवान भरोसे छोड़ दिया जा रहा है। भर्ती करने में आनाकानी की शिकायतें खूब मिल रही हैं।

यह भी पढ़ें: गहलोत बोले- हमारे तो डिप्टी सीएम खुद ही सरकार गिराने की डील कर रहे थे, मेरे पास सबूत

भाजपा कार्यालय में शादी के लड्डू से संक्रमण की दस्तक?

प्रदेश भाजपा मुख्यालय के 75 लोगों के संक्रमण की चपेट में आने की वजह शादी के लड्डू को माना जा रहा है। भाजपा प्रवक्ता अरविंद कुमार सिंह ने शादी की सालगिरह पर आठ जुलाई को प्रदेश पार्टी मुख्यालय में लोगों की मांग पर लड्डू मंगवाकर बांटे थे। दूसरे ही दिन वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए। हालांकि उन्होंने इस बात से इंकार किया कि उन्होंने लोगों को लड्डू बांटे। प्रदेश भाजपा कार्यालय के सूत्रों का दावा है कि उसके बाद ही संक्रमण फैलने की रफ्तार बढ़ी।

यह भी पढ़ें: World Youth Skill Day: युवाओं को PM Modi का संदेश, स्किल आपको दूसरों से अलग बनाता है, लगातार बदलाव जरूरी

विधानसभा चुनाव पर ग्रहण

 

मुझे भर्ती करो नहीं तो फैला दूंगा Coronavirus, मरीजों की ऐसी दुर्दशा, राजभवन के कईं कर्मी पॉजिटिव

कोरोना संक्रमण की बढ़ती भयावहता के बीच विधानसभा चुनावों के भविष्य पर भी ग्रहण लगता दिखने लगा है। चुनावी तैयारियों में सबसे तेज भाजपा और जदयू पूरी तरह कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। आरजेडी शुरु से ही चुनाव कराने का विरोध कर रही है। लोजपा नेता चिराग पासवान के चुनाव कराने को लेकर दिए गए बयान पर बवाल मच चुका है। पासवान ने कोरोनाकाल में चुनाव नहीं कराने की बात की तो तेजस्वी यादव के सुर में सुर मिलाने की दलील देते हुए इसके कई निहितार्थ निकाले जाने लगे।

आरजेडी ने ऐसे दौर में विधानसभा चुनाव नहीं कराने को लेकर पटना हाईकोर्ट में याचिका दायर कर रखी है। इस पर सुनवाई चल रही है। आम जनों की भी यही सोचना है कि कोरोनाकाल में चुनाव कराना संभव नहीं। यह बेहद ख़तरनाक साबित हो सकता है।


ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned