ड्रिंक करके गाडी चलाने वालों की नहीं होगी जांच, दिल्ली पुलिस ने लिया फैसला

कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं जिसकी वजह से दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) भी अब ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट नहीं कर पा रही है।

Vineet Singh

20 Mar 2020, 12:55 PM IST

नई दिल्ली: दिल्ली ट्रैफिक पुलिस अब तक शराब पीकर कार चलाने वाले लोगों का भारी भरकम चालान काटती थी जिसकी वजह से लोगों में काफी खौफ रहता था और वह शराब पीकर गाड़ी ( Drunk and Drive ) चलाने से बचते थे लेकिन अब कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली पुलिस को अल्कोहल टेस्ट ( Breath Analyser Test ) करने की इजाजत नहीं है।

दरअसल कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं जिसकी वजह से दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) भी अब ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट नहीं कर पा रही है।

फरवरी से मार्च तक के आंकड़े देखें तो पता चलेगा कि दिल्ली में ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट ना हो पाने की वजह से शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों के चालान में कमी ( Drunk and drive case ) आई है।

जानकारी के मुताबिक लोग अब ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट करवाने से मना कर दे रहे हैं जिसकी वजह से यह पता नहीं चल पाता कि लोगों ने शराब पी है या फिर नहीं पी है।

दरअसल ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट एक डिवाइस की मदद से किया जाता है जिसमें ड्राइवर को इस डिवाइस को अपने मुंह से लगाना होता है और फूंक मारनी होती है।

इसके बाद यह डिवाइस बता देता है कि ड्राइवर ने शराब पी है या फिर नहीं पी है। और अगर ड्राइवर ने शराब पी है तो कितनी मात्रा में पी है।

ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट करवाने से मना करने पर दिल्ली पुलिस ड्राइवर्स पर दबाव नहीं बना सकती इसीलिए अब कुछ समय के लिए इस टेस्ट को बंद कर दिया गया है क्योंकि इससे कोरोना वायरस फैलने का खतरा है।

ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट सिर्फ उन्हीं लोगों का किया जाएगा जिन्हें देखने से ही पता चल जाएगी उन्होंने शराब पी है और वह गाड़ी चलाने की हालत में नहीं है।

Vineet Singh Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned