scriptNitin Gadkari Approves Bharat NCAP Safety Rating Based Crash Tests Car | Bharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा | Patrika News

Bharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा

अब तक भारत में जो वाहन बेचे जा रहे थें उन्हें ग्लोबल NCAP क्रैश टेस्ट के आधार पर स्टार रेटिंग दी जा रही थी। जिसमें Maruti Alto और यहां तक कि महिंद्रा की बेस्ट सेलिंग एसयूवी में से एक Mahindra Scorpio को जीरो रेटिंग मिली थी।

नई दिल्ली

Published: June 24, 2022 06:30:37 pm

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री (MoRTH) नितिन गडकरी ने घोषणा की है कि उन्होंने भारत NCAP या न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम के लिए GSR (सामान्य वैधानिक नियम) अधिसूचना के मसौदे को मंजूरी दे दी है। दुनिया भर में अन्य कार क्रैश रिपोर्ट की ही तरह Bharat NCAP क्रैश टेस्ट में उनके प्रदर्शन के आधार पर कारों को स्टार रेटिंग देगा। इससे देश में बेचे जाने वाले वाहनों को स्टार रेटिंग मिलेगी, जिससे आप ये समझ सकेंगे कि उक्त वाहन एक्सीडेंट या क्रैश के वक्त कितनी सुरक्षित है। अब तक भारत में बेचे जाने वाले वाहनों को ग्लोबल NCAP क्रैश टेस्ट रेटिंग दी जा रही थी।

nitin_gadkari_bharat_ncap-amp.jpg
Nitin Gadkari Approves Bharat NCAP


नितिन गडकरी ने कहा है कि "भारत एनसीएपी (NCAP) के परीक्षण प्रोटोकॉल को मौजूदा भारतीय नियमों में फैक्टरिंग वैश्विक क्रैश टेस्ट प्रोटोकॉल के साथ जोड़ा जाएगा, जिससे कार निर्माता कंपनियां अपने वाहनों को भारत की अपनी इन-हाउस परीक्षण सुविधाओं में परीक्षण कर सकेंगे।" नितिन गडकरी ने अपने ट्विटर हैंडल के माध्यम से घोषणा की, जहां उन्होंने कहा, "मैंने अब भारत एनसीएपी (नई कार आकलन कार्यक्रम) शुरू करने के लिए ड्राफ्ट (GSR) अधिसूचना को मंजूरी दे दी है, जिसमें भारत में ऑटोमोबाइल को क्रैश टेस्ट में उनके प्रदर्शन के आधार पर स्टार रेटिंग दी जाएगी।"

यह भी पढें: आ गई Tata Safari Electric, स्पॉट हुई आपकी फेवरेट SUV

उन्होंने आगे कहा, "क्रैश टेस्ट के आधार पर भारतीय कारों की स्टार रेटिंग न केवल कारों में संरचनात्मक और यात्री सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए बल्कि भारतीय ऑटोमोबाइल की निर्यात-योग्यता को बढ़ाने के लिए भी अत्यंत महत्वपूर्ण है।" दरअसल, केंद्रीय मंत्री का मानना है कि नया Bharat NCAP एक उपभोक्ता केंद्रित मंच के रूप में काम करेगा जो भारत में कार खरीदारों को उनकी स्टार रेटिंग के आधार पर सुरक्षित कारों को चुनने की सुविधा प्रदान करेगा। उनका कहना है कि इससे सुरक्षित वाहन बनाने के लिए भारत में ओईएम (ओरिजिनल इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर) के बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को भी बढ़ावा मिलेगा।


नितिन गडकरी ने यह भी कहा, "भारत एनसीएपी देश को दुनिया में नंबर 1 ऑटोमोबाइल हब बनाने के मिशन के साथ हमारे ऑटो उद्योग को आत्मानिर्भर बनाने में एक महत्वपूर्ण साधन साबित होगा।" हालांकि अभी केंद्रीय मंत्री ने इस बात का खुलासा नहीं किया है कि ये प्रोग्राम कब से शुरू किया जाएगा और वाहनों की टेस्टिंग कहां की जाएगी। लेकिन यह निश्चित रूप से भारत सरकार द्वारा यात्रियों की सुरक्षा की दिशा में उठाया गया एक बड़ा कदम है।

अब तक Global NCAP का था सहारा:

बता दें कि, अब तक भारत में जो वाहन बेचे जा रहे थें उन्हें ग्लोबल NCAP क्रैश टेस्ट के आधार पर स्टार रेटिंग दी जा रही थी। जिसमें देश की बहुत सी मशहूर कारों जैसे Maruti Alto और यहां तक कि महिंद्रा की बेस्ट सेलिंग एसयूवी में से एक Mahindra Scorpio को जीरो रेटिंग मिली थी। वहीं टाटा मोटर्स की Nexon और Altroz जैसे वाहनों को 5 स्टार रेटिंग भी मिली है। इस क्रैश टेस्ट के दौरान वाहनों को एक तय स्पीड के साथ क्रैश कराया जाता है और इस बात की तस्दीक की जाती है कि वाहन में बैठने वाले यात्रियों को किस हद तक नुकसान पहुंचता है। मसलन यात्री के शरीर के भिन्न अंगों पर इसका कितना गहरा प्रभाव पड़ता है।


इस टेस्ट में व्यस्क और बच्चे दोनों तरह के यात्रियों के डमी (पुतले) को वाहन में रखकर इसकी टेस्टिंग की जाती है। क्रैश टेस्ट के दौरान अलग-अलग परिदृश्य में वाहन को सेफ़्टी नंबर्स दिए जाते हैं जो कि व्यस्क और बच्चे दोनों के लिए भिन्न होते हैं। इन अंकों के आधार पर ही वाहन को सेफ़्टी रेटिंग दी जाती है। आज के समय में इंडियन मार्केट में सेफ़्टी रेटिंग का वाहनों की बिक्री पर बड़ा प्रभाव देखने को मिलता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

गालीबाज भाजपा नेता पर रखा गया 25 हजार का इनाम, 40 टीमें तलाश में जुटीMumbai: मनी लॉन्ड्रिंग केस में संजय राउत को बड़ा झटका, PMLA कोर्ट ने ED कस्टडी 22 अगस्त तक बढ़ाईMaharashtra Coal Scam: दिल्ली कोर्ट का फैसला- पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 3 और कंपनी डायरेक्टर को 4 साल की जेलबिहार में सियासी उलटफेर की आंशका, CM नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी से की बात, सभी विधायकों को बुलाया पटनाखाटूश्यामजी हादसा: दो शवों की भी हुई शिनाख्त, पीएम मोदी ने जताया दुख, सीएम ने की जांच व मुआवजे की घोषणाMaharashtra: महाराष्ट्र में मंत्रिमंडल विस्तार जल्द, जानें BJP में कब शुरू होगी प्रदेश अध्यक्ष बदलने की प्रक्रियावेंकैया नायडू को विदाई में पीएम मोदी भावुक, कहा - 'आपके साथ काम करना हमारा सौभाग्य'Bihar Politics: राजद और JDU मिल जाए तो बिहार में आराम से बन सकती है सरकार, जानिए क्या है आंकड़े
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.