2.7 एकड़ भूमि की होगी गहरी खुदाई, पत्थरों के नींव पर बनेगा मंदिर

राम मंदिर निर्माण समिति की बैठक में नए फाउंडेशन के डिजाइन पर लगी मुहर, खुदाई कर बनेगी नींव

By: Satya Prakash

Published: 29 Dec 2020, 11:20 PM IST

अयोध्या : राम जन्मभूमि परिसर में 2.7 एकड़ भूमि पर मंदिर निर्माण के लिए खुदाई कर पत्थरों से नींव बनाई जाएगी। जिस पर भव्य मंदिर का निर्माण होगा। जिसका कार्य जनवरी माह से प्रारंभ हो सकता है। यह निर्णय दिल्ली में आयोजित निर्माण समिति बैठक में लिया गया है। इस बैठक में निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र महासचिव चम्पतराय व कोषाध्यक्ष गोविन्ददेव गिरी के साथ 8 सदस्यीय विशेषज्ञ समिति के इंजीनियर भी शामिल रहे।

राम मंदिर निर्माण समिति की बैठक में फाउंडेशन बनाये जाने पर निर्णय लिया है। जिसमे अब नए डिजाइन पर फाउंडेशन तैयार किया जाएगा। बैठक के बाद पत्रिका को खास जानकारी देते हुए राम मंदिर ट्रस्ट कोषाध्यक्ष गोविन्द देव गिरी ने बताया कि विशेषज्ञों की समिति ने फाउंडेशन बनाये जाने के लिए रिपोर्ट सौंपा था। औए अब मंदिर निर्माण के लिए 2.7 एकड़ भूमि पर खुदाई कर नींव बनाये जाने के लिए पत्थरों से ठोस किया जाएगा। जिसके लिए जल्द ही खुदाई का कार्य आरंभ भी कर दिया जाएगा। वहीं कहा कि इस कार्य के लिए खुदाई कर पहले पत्थरों को लगाए जाने के बाद टेस्टिंग किया जाएगा। उसके बाद ही आगे का कार्य तेजी गति से प्रारंभ होगा। साथ ही बताया कि नींव के खुदाई के लिए पॉलिसी डिसीजन के रूप में मान्य की है। जहां पर मंदिर का भार अधिक होगा उस स्थान पर अधिक पत्थरों को लगाए जाने के लिए अधिक खुदाई की जाएगा और जहाँ कम भार होगी उस स्थान पर कम खुदाई किया जाएगा लेकिन इसका निर्णय आर्किटेक व इंजीनियर के द्वारा लिया जाएगा। इस बैठक में मंदिर आर्किटेक आशीष सोनपुरा के साथ एलएंडटी, टाटा कंसील्ड इंजीनियरिंग, आईटीआई चेन्नई, सीबीआरआई रुड़की, आईआईटी दिल्ली, आईआईटी मुम्बई, आईआईटी गुजरात के विशेषज्ञ भी शामिल रहे।

Show More
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned