अयोध्या. जैसे ही सूरज अस्तगामी हुआ। सरयू की धारायें सतरंगी रोशनी के साथ इठलाने लगीं। मंदिर मठ सब रोशन हो उठे। अभी एक तिहाई रामनगरी ही रंग बिरंगी लाइटों से जगमग हुई है। पांच अगस्त तक जब पूरा शहर सज उठेगा तब रामनगरी की छटा अलौकिक और निराली होगी। तीन लाख से अधिक देशी घी दीपक भी इस दिन अपनी रोशनी बिखेरेंगे। तब घर आगंन भी दमक उठेगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned