मंदिर निर्माण से पहले रामजन्मभूमि परिसर के मिट्टी की जांच शुरू अधिकारियों ने लिया शैम्पल

हिंदुस्तान की लार्सन एंड टुब्रो कंपनी कराएगी राम मंदिर का निर्माण

रामजन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण का कार्य तेजी लगाए गए 1 दर्जन से अधिक मजदूर

By: Satya Prakash

Published: 01 Mar 2020, 02:59 PM IST

सत्य प्रकाश
अयोध्या : राम मंदिर निर्माण से पहले रामजन्मभूमि परिसर के भूमि परिसर में मृदा परीक्षण एक्सपर्ट के माध्यम से कराया जाएगा जिसके लिए वहां की मिट्टी को लेकर दिल्ली भेज दिया गया है तो वही राम जन्मभूमि परिसर में भगवान श्री राम लला को दूसरे स्थान पर शिफ्ट किए जाने को लेकर कार्य तेज गति से किया जा रहा है परिसर में जहां जेसीबी मशीनों द्वारा समतलीकरण किया जा रहा है तो वही 1 दर्जन से अधिक मजदूरों को भी सफाई के कार्यों के लिए लगाया गया है।

रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय व मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र के साथ लार्सन एंड टुब्रो कंपनी के अधिकारी भी निरीक्षण के लिए परिसर पहुंचे थे जहां टेंट में विराजमान भगवान श्री रामलला के टेंट के चारों तरफ स्थलीय निरीक्षण किया गया। सूत्रों के मुताबिक मिट्टी परीक्षण के लिए वहां की मिट्टटी को भी ले गए । जिसेेे दिल्ली में विशेष टीम केे द्वारा परीक्षण कराया जाएगा । वहीं रामलला के शिफ्टिंग स्थल को लेकर निर्माण के दौरान दर्शनार्थियों के दर्शन पूजन में व्यवधान ना आए और सुरक्षा व्यवस्था को लेकर प्रशासनिक अफसरों ट्रस्ट के लोगों और विशेषज्ञों से राम जन्मभूमि परिसर के मानस भवन में गहन परिचर्चा की थी इसके बाद उन्होंने लार्सन एंड टुब्रो के प्रोजेक्ट मैनेजर और नेशनल बिल्डिंग कारपोरेशन के एक रिटायर्ड अधिकारी जो विशेषज्ञ के तौर पर उनके साथ आया था राम मंदिर निर्माण स्थल की साइड विजिट कराई थी और उसकी मैपिंग भी की गई थी। जिसके बाद रविवार की सुबह राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्रा दिल्ली के लिए वापस लौट गए।
वही रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा के मुताबिक शनिवार को ट्रस्ट के साथ अन्य कई अधिकारियों ने भी परिसर का निरीक्षण किया है जिसमें वहां की मिट्टी को भी परखा है। जिसके परीक्षण रिपोर्ट के आधार पर ही मंदिर निर्माण के कार्य को तेज गति प्रदान मिलेगी।
इस दौरान रामजन्मभूमि निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र ने साफ कर दिया कि लार्सन एंड टुब्रो देश की बहुत बड़ी कंपनी है उसके प्रोजेक्ट मैनेजर को उन्होंने राम मंदिर निर्माण स्थल की साइड विजिट कराई थी और कंपनी को कुछ ना कुछ काम दिया जाएगा लेकिन यह कौन-कौन से कार्य होंगे इसे ट्रस्ट को तय करना है इसी के साथ उन्होंने यह भी साफ किया कि उनके साथ विशेषज्ञ के तौर पर नेशनल बिल्डिंग कारपोरेशन के एक रिटायर्ड अधिकारी मित्तल जी साथ ही आए थे और उन्होंने भी राम मंदिर निर्माण स्थल का भ्रमण किया है। वही कहा कि कल हमारे साथ 2 तकनीकी लोग थे उसमें एक तो लार्सन एंड टुब्रो से थे प्रोजेक्ट मैनेजर थे और दूसरे एनबीसी से थे नेशनल बिल्डिंग कारपोरेशन से जो रिटायर हुए हैं मित्तल साहब वह साथ में मेरे आए थे तो एक तरीके से समझिए आप वह जायजा ले रहे थे कैसे शुरुआत होगी अब लार्सन एंड टूब्रो देश की बहुत बड़ी कंपनी है कुछ तो कार्य उसे सौंपा जाएगा लेकिन क्या सौंपा जाएगा यह ट्रस्ट को निर्णय लेना है .

Show More
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned