बड़ी खबर : रामनवमी मेले पर लगा कोरोना का ग्रहण

-सीएम योगी आदित्यनाथ ने संतों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग से मीटिंग कर लिया निर्णय

-रामनवमी मेले पर अयोध्या ना पहुंचे श्रद्धालु संतो ने की अपील

By: Satya Prakash

Published: 13 Apr 2021, 07:30 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

अयोध्या.भगवान श्री राम के जन्मोत्सव पर एक बार फिर कोविड का प्रकोप रहा और राम नगरी अयोध्या में रामनवमी मेले में श्रद्धालुओंं के प्रवेश पर रोक लगा दिया। दरसल उत्तर प्रदेश केे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या के संतों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के द्वारा रामनवमी मेले होनेे भीड़़ को लेकर चर्चा किया गया जिसके बाद संतों ने देश के राम भक्तों व श्रद्धालुओं से अपील किया कि लोग अपने घरों में रहकर ही श्री राम जन्मोत्सव मनाएं

अयोध्या में हजारों वर्षों से होने वाली रामनवमी मेलेे पर की परंपरा आज एक बार फिर करुणा के प्रकोप के कारण प्रभावित होगा क्योंकि अयोध्या में भगवान राम के भव्य मंदिर का निर्माण शुरू हो चुका है ऐसे में होने वाले रामनवमी मेले में कई लाख की संख्या में श्रद्धालुओं के आने की संभावना बनी थी जिसको देखते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत भीड़ न होने पर को लेकर अयोध्या के संतों के साथ चर्चा किया गया जिसके बाद संतों व प्रदेश सरकार के नेतृत्व में एक बार फिर रामनवमी मेले पर श्रद्धालुओं के प्रवेश को लेकर रोक लगाए जाने पर फैसला लिया गया है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद पत्रिका टीम से खास बातचीत करते हुए कमल नयन दास ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा बताए गए कोविड-19 काल के तहत लोग अपने घरों में रहकर ही पूजन अर्चन करें अयोध्या में अधिक भीड़ भाड़ ना करें। कहा कि रामनवमी मेले पर अधिक भीड़ होने से संक्रमण का खतरा फैलने का डर है लोग अपने घरों में भगवान श्रीराम का जन्म उत्सव मनाए जिससे हम लोग इस महामारी को परास्त कर सकें।

वही राम वल्लभा कुंज के अधिकारी राजकुमार दास ने बताया कि देश व प्रदेश वासियों से हमारे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का राज्यपाल आनंदीबेन ने यह अपील किया है कि लोग भीड़भाड़ वाले स्थानों पर ना जाएं घरों में रहकर ही उपासना पूजा करें और मानव रक्षा के लिए प्रदेश और केंद्र सरकार सरकार व स्वास्थ्य विभाग द्वारा जो गाइडलाइन जारी होता है उसका अक्षर का पालन करें स्वस्थ रहें और घर में रहकर ही उत्सव मनाए वहीं से प्रार्थना करें जिससे इस वैश्विक महा संकट से निजात मिल सके। वही कहा कि निश्चित रूप से रामनवमी पर अपार भीड़ होती है लेकिन इस दौरान हर व्यक्ति की जांच नहीं की जा सकती इसलिए घर में ही रह करती है सभी लोग उत्सव मनाए कोई भी अयोध्या ना आए।

अयोध्या जिलाधिकारी अनुज झा ने बताया कि आज मुख्यमंत्री द्वारा अयोध्या के प्रमुख धर्म आचार्यों के साथ वीसी के माध्यम से संबोधित किया सभी कर्मचारियों ने यही अपील किया कि कोविद का संक्रमण देखते हुए कम से कम लोग ही मंदिरों में जाये। और जो भी उपासना साधना है वह अपने घरों पर ही करें। भीड़-भाड़ से बच्चे उसी को दृष्टिकोण को देखते हुए अग्रिम जो निर्णय लिए जा रहे हैं उसमें बाहर से जो लोग अयोध्या आते हैं उनका चक्कर आ जाएगा जो नेगेटिव पाए जाएंगे उन्हीं को प्रवेश दी जाएगी क्योंकि अयोध्या के आसपास के जिलों में तेजी संक्रमण की संख्या फैल रही है उसको देखते हुए आने वाले श्रद्धालुओं को विशेष रुप से निगाह रखी जाएगी। वही बताया कि बॉर्डर सील किए जाने को लेकर विचार किया जाएगा।

Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned