दीपोत्सव के पहले सरयू में उतरेगा क्रूज, अयोध्या पहुंची सर्वे टीम

कोलकाता की कोचीन शिपयार्ड कंपनी ने क्रूज बनाये जाने के लिए किया स्थलीय निरीक्षण

By: Satya Prakash

Published: 18 Dec 2020, 12:08 AM IST

अयोध्या : राम नगरी अयोध्या के सरयू नदी में रामायण क्रूज उतारने की तैयारी है जिसके लिए कोलकत्ता कोचीन शिपयार्ड की टीम ने गुप्तार घाट से नया घाट के बीच दौरा किया। घण्टों स्ट्रीमर के जरिये नदी की गहराई व पानी की उपलब्धता का आकलन किया। जिसके आधार पर ही क्रूज का निर्माण कराया जाएगा। माना जा रहा आने वाले दीपोत्सव के दौरान इस योजना का उद्घाटन किया जा सकता है।

अयोध्या के सहस्त्रधारा लक्ष्मण घाट से गुप्तार घाट के बीच क्रूज से 8 किलोमीटर के जलमार्ग सफर के दौरान रामायण के प्रसंगों पर ध्वनि व सचल चित्रों का दृश्य दिखाया जाएगा। इसके साथ ही सरयू घाट पर होने वाले आरती का भी दृश्य पर्यटक क्रूज़ के माध्यम से दर्शन कर सकेंगे। जिसकी तैयारी में अयोध्या पहुंचे कोलकत्ता कोचीन शिपयार्ड की टीम ने भ्रमण कर क्रूज केे चलने में होने वाली बाधाओं की जानकारी ली है। दरसल इसी कंपनी के द्वारा रामायण क्रूज का निर्माण होना है। एक क्रूज की लागत लगभग 7 करोड़ खर्च होने का अनुमान है। अयोध्या दौरे पर आये ग्रुप संचालन करने वाली कंपनी नार्डिक क्रूज प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्टर विकास मालवीय, कोलकत्ता कोचीन शिपयार्ड के विजनेस हेड शिवराम, डिजाइन हेड जथेस चंद और शिपयार्ड के हेड कमांडर भी रहे।

अयोध्या पहुंचे विकास मालवीय ने जानकारी देते हुए बताया कि सरयू नदी राष्ट्रीय जलमार्ग 40 पर या पहली बार क्रूज़ सेवा प्रारंभ होगी इसका उद्देश्य पवित्र सहयोग नदी के प्रसिद्ध घाटों की यात्रा करते हुए श्रद्धालुओं को आध्यात्मिक यात्रा का अनुभव मिले वही बताया कि जलमार्ग का फाइनल सर्वे इनलैंड वॉटर वेज आर्थीरीटी ऑफ इंडिया की टीम करेगी

Show More
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned