अयोध्या : लगातार हो रहे हादसों की कड़ी में एक और हादसा सरयू की लहरों में डूबा युवक

माह भर में आधा दर्जन से अधिक लोग हो चुके हैं हादसे का शिकार नही टूट रही प्रशाशन की नींद

By: अनूप कुमार

Published: 16 May 2018, 05:28 PM IST

अयोध्या : मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन जन्म स्थली अयोध्या के किनारे बहने वाली पवित्र सरयू नदी में स्नान कर अपने जन्म जन्मांतर का पाप धोने की अभिलाषा लेकर देश के कोने-कोने से आने वाले भक्त श्रद्धालु इन दिनों मां सरयू के कोप का शिकार हो रहे हैं . जरा सी असावधानी बरतने पर बेगुनाह लोगों की जान जा रही है ,हालांकि यह मौसम हर साल इस महीने में सरयू नदी में स्नान करने वाले कई लोगों की जान जरूर ले लेता है . लेकिन बावजूद इसके स्थानीय प्रशासन ने घाट के किनारे राहत और बचाव का कोई इंतजाम नहीं किया है . जिसके कारण नदी में डूबने वाले लोगों तक मदद नहीं पहुंच पा रही है .बीते माह भर में करीब आधा दर्जन से अधिक लोग असमय काल के गाल में समा चुके हैं . बावजूद इसके इन घटनाओं पर स्थानीय प्रशासन का ध्यान नहीं है .

माह भर में आधा दर्जन से अधिक लोग हो चुके हैं हादसे का शिकार नही टूट रही प्रशाशन की नींद

ताजा मामले में बुधवार की दोपहर फैजाबाद के पड़ोसी जनपद गोंडा के मनकापुर का रहने वाला 25 वर्षीय युवक अटल बिहारी वर्मा सरयू नदी में स्नान करते समय नदी की गहराइयों में कहीं गुम हो गया . हादसे का शिकार हुआ मृत युवक शादी विवाह आयोजनों में खाना बनाने का काम करता था और आज अयोध्या आया था . इसी दौरान युवक की मौत उसे सरयू नदी के तट तक ले गयी और संत तुलसीदास घाट के पास सरयू नदी में स्नान करते समय अचानक युवक गहरे पानी में चला गया और जब तक वह शोर मचाता और उस तक मदद पहुंचती तब तक युवक गहरे पानी में लापता हो गया . आनन् फानन में मामले की खबर नयाघाट चौकी की पुलिस को दी गयी जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से नदी में डूबे युवक के शव को पानी से बाहर निकलवा लिया है . बताते चलें अप्रैल-मई जून के महीने में सरयू नदी का पानी कम हो जाता है और छिछला हो जाता है . जिसके कारण अक्सर कुछ दूरी पर घुटनों तक पानी अगला कदम बढ़ाने पर कई फीट की गहराई पानी में हो जाती है और इसी धोखे का शिकार होकर लोग असमय अपनी जान गवा रहे हैं .

Show More
अनूप कुमार Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned