संतो की तपोभूमि फटिक शिला के महंत रामाज्ञा दास का सड़क दुर्घटना में हुई मृत्यु

संतो की तपोभूमि फटिक शिला के महंत रामाज्ञा दास का सड़क दुर्घटना में हुई मृत्यु

Satya Prakash | Updated: 26 Jul 2019, 07:08:02 PM (IST) Ayodhya, Ayodhya, Uttar Pradesh, India

अयोध्या के सरयू तट पर स्थित हैं फटिक शिला मंदिर

अयोध्या : धार्मिक नगरी अयोध्या के सरयू तट पर स्थित संतों की तपोभूमि फटिक शिला के महंत रामाज्ञा दास का सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई । इस घटना को लेकर संत समाज काफी दुखी हैं।

अयोध्या के सरयू तट पर 40 वर्ष तक संत नारायण दास उर्फ बगही बाबा सिर्फ सरयू का जल पीकर ने तपस्या किया था जिसके बाद इस स्थान पर फटिक शिला मंदिर का निर्माण हुआ। जिसके बाद से इस स्थान पर 24 घंटा राम नाम का कीर्तन शुरू हुआ जो कि आज भी यह कीर्तन अनवरत चल रहा है ।बगही बाबा के निधन के बाद लगभग दो दशक पूर्व इस स्थान का देख रेख महंत रामाज्ञा दास को दिया गया था। लेकिन आज वृंदावन से अयोध्या आते समय कन्नौज के पास एक सड़क दुर्घटना में उनकी मृत्यु हो गई। महंत रामाज्ञा दास के आकस्मिक मृत्यु से अयोध्या के संत समाज दुखी है। संतों ने दिवंगत महंत के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned