Ayodhya : अयोध्या में  बीमार पड़ी निशुल्क सरकारी एम्बुलेंस सेवा,मरीज बेहाल

Ayodhya : अयोध्या में  बीमार पड़ी निशुल्क सरकारी एम्बुलेंस सेवा,मरीज बेहाल
Ayodhya : अयोध्या में  बीमार पड़ी निशुल्क सरकारी एम्बुलेंस सेवा,मरीज बेहाल

Anoop Kumar | Updated: 23 Sep 2019, 06:30:53 PM (IST) Ayodhya, Ayodhya, Uttar Pradesh, India

खबर के मुख्य बिंदु -

- जिले के सैकड़ों एम्बुलेंस चालकों ने खड़े कर दिए वाहन,परेशान हुए मरीज

- आंदोलित एम्बुलेंस चालकों का आरोप सेवा प्रदाता कम्पनी का व्यवहार खराब

- बीते तीन महीने से एंबुलेंस कर्मियों को नहीं मिला वेतन

अयोध्या : आम जनमानस को बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने के लिए चल रही निशुल्क सरकारी एम्बुलेंस सेवा खुद बीमार पड़ गयी है | अयोध्या जिले में भी जीवनदायिनी स्वास्थ्य विभाग की 108,102 एंबुलेंस सेवा ठप हो गई है। एंबुलेंसकर्मी अयोध्या के दर्शन नगर मेडिकल कॉलेज में एंबुलेंस खड़ी करके धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। जिले के सभी एंबुलेंस मेडिकल कॉलेज के कंपाउंड में खड़ी कर दिए गए हैं जिससे स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हो रही है।

ये भी पढ़ें - सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या के राम मंदिर बाबरी मस्जिद मुकदमे की सुनवाई का 28वां दिन,सुन्नी वक्फ बोर्ड के अधिवक्ता ने संविधान पीठ के सामने रखा अपना पक्ष


एंबुलेंस कर्मियों की मांग है कि एंबुलेंस सेवा प्रदाता कंपनी जीवीके इएमआरआई उनके साथ सही रवैया नहीं अपना रहा है। एंबुलेंस कर्मियों ने कंपनी की पायलट प्रोजेक्ट को बंद करने की भी मांग की है। यही नहीं एंबुलेंस कर्मियों को पिछले 3 महीने से वेतन नहीं मिला है।आरोप यह भी है कि वेतन समय से नहीं मिलता। एंबुलेंस सेवा ठप करने के बाद एंबुलेंस कर्मियों ने कहा कि 7 साल हो गया लेकिन अभी तक उनके वेतन में वृद्धि नहीं हुई है जिसको लेकर पूरे उत्तर प्रदेश में एंबुलेंस कर्मी आंदोलित है।

ये भी पढ़ें - इस बार अयोध्या के दीपोत्सव कार्यक्रम में बनेगा फिर से नया वर्ल्ड रिकार्ड,अयोध्या में 10 स्थानों पर होंगे भव्य रंगारंग कार्यक्रम और भजन संध्या

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned