किसान बन कर दिल्ली में धरना दे रहे खालिस्तान के आतंकवादी : परमहंस दास

कृषि बिल का विरोध कर रहे किसानों को बुद्धि शुद्धि के लिए सूर्य कुंड पर किया गया अनुष्ठान

By: Satya Prakash

Published: 24 Jan 2021, 10:53 PM IST

अयोध्या : कृषि बिल के विरोध में पूरे देश में किसान धरने पर बैठे हैं और लगातार कृषि सुधार कानून को हटाने की मांग कर रहे हैं लेकिन अयोध्या को संतो को यह लगता है कि यह कानून किसानों के हित में है और जो लोग विरोध कर रहे हैं वह नकली किसान हैं वह लोग चाइना पाकिस्तान अफगानिस्तान और खालिस्तान के समर्थक हैं जो देश में अनियमितता फैलाना चाहते हैं किसान बिल का विरोध कर रहे किसानों की वजह से असली किसान को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है जबकि प्रधानमंत्री की मंशा है कि किसानों के जीवन स्तर में सुधार हो इसी क्रम में आज अयोध्या के भगवान सूर्य का एकमात्र मंदिर सूर्य कुंड मंदिर पर रविवार के दिन भगवान आदित्य नारायण की पूजा किया है और भगवान से आशीर्वाद मांगा है कि भगवान आंदोलन कर रहे किसानों को सद्बुद्धि दें जिससे कि वह देश हित के बारे में सोच सकें किसानों के लिए हितकर कानून का विरोध ना करें।

तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने कहा कि रविवार भगवान सूर्य का दिन है प्रभु श्रीराम सूर्यवंशी है प्राचीन सूर्य कुंड है यहीं पर सूर्य भगवान का प्रकट हुए थे राष्ट्रीय एकता अखंडता और भारतीय संस्कृति की रक्षा के लिए आज सूर्य कुंड मंदिर पर नकली किसानों की बुद्धि शुद्धि के लिए हवन किया गया है संत परमहंस दास ने कहा कि आंदोलन कर रहे नकली किसान असली किसानों का हक छीनना चाहते हैं भगवान से प्रार्थना किया है कि नकली किसानों की बुद्धि शुद्ध हो और वह असली किसानों के दुश्मन ना बने संत परमहँस दास ने कहा कि प्रधानमंत्री लगातार किसानों की स्थिति के सुधार के प्रयास कर रहे हैं और कृषि सुधार कानून किसानों के लिए संजीवनी बूटी है साथी दिल्ली में धरने पर बैठे किसानों को लेकर कहा कि यह पाकिस्तान और आतंकवादियों के इशारे पर खालिस्तानी समर्थक है यह नकली किसान है यह किसानों के दुश्मन है अनशन कर रहे नकली किसान असली किसानों के जीवन सुधार में जो सरकार प्रयास कर रही है उसमें रोड़ा ना बने इस लिहाज से हवन किया गया है

Show More
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned