अयोध्या में आरएसएस के कार्यकर्ताओं का महाकुम्भ

संघ के महाकुम्भ में लगी 101 शाखाएं शामिल हुए 5000 हजार कार्यकर्ता

अयोध्या : राम मंदिर निर्माण से पहले युवाओं को देश के प्रति समर्पण भाव के अनुरूप तैयार करने के अयोध्या में संघ महाकुम्भ का आयोजन किया गया। और बड़ी संख्या में युवाओं ने इस आयोजन में शामिल हुए।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ द्वारा अयोध्या के राम की पैड़ी में 101 शाखाएं सम्पन्न हुआ।इस कार्यक्रम में 5000 कार्यकर्ताओं ने शाखा कुंभ में शामिल हुए शाखा कुम्भ में संघ के कार्यकर्ताओं ने तमाम खेलों का आयोजन किया जिसमे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सहित भाजपा से जुड़े हुए तमाम बड़े नेताओं ने इस कार्यक्रम में शामिल रहे।

कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे राम जन्मभूमि ट्रस्ट में शामिल हुए डॉ अनिल मिश्रा ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों के माध्यम से स्वयं सेवकों के अंदर स्वभाविक अनुशासन प्रकट होता है। देश के प्रति कर्तव्य का भाव उत्पन्न होता है। समाज के प्रति अपना उत्तरदायित्व और स्वयं के अंदर अपने गुणों को उदभव कराती है इस तरीके की शाखाएं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ 1925 से देश के लिए काम कर रहा है। इस तरह के कार्यक्रमों का उद्देश्य युवाओं में देश में जो राष्ट्रीयता और भक्ति का भाव बढ़ाने का है। हिंदुत्व की भावनाओं को जागृत करने का है। राम मंदिर के प्रति स्वाभाविक उद्गार जागृत होगा। मातृभूमि के प्रति स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ताओं की अभ्यास कि यह एक तथ्य है। अपने सामाजिक कर्तव्यों का कार्यकर्ताओं के मन पर प्रभाव स्वाभाव पड़े इस तरीके के शाखाओं का परम उद्देश्य होता है।

वहीं अवध प्रांत प्रभारी प्रमोद पांडे ने कहा कि। इस तरीके की शाखाओं से जन जागरण हिंदुत्व जागरण और स्वस्थ रहने की भावनाओं को जागृत करना। है। लोगों में एक संदेश देना कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अपनी गतिविधियों में है। इसमें 5000 से ज्यादा स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने शिरकत किया है। अयोध्या में इस तरीके के कार्यक्रम का एकमात्र उद्देश्य है हिंदुत्व जन जागरण, आर एस एस पूर्ण रूप से हिंदुत्व की शाखा है और हिंदुत्व पर आधारित है। शाखाओं के माध्यम से लोग स्वस्थ रहे खेलकूद करें,बौद्धिक के माध्यम से देशभक्ति की भावना कार्यकर्ताओं के अंदर जगाई जा सके।

Show More
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned