संतों ने जब कहा-एक इशारे पर चल देगी भीड़, सुरक्षा में लगे अधिकारियों को आने लगे पसीने

विराट धर्मसभा आयोजन स्थल पर उमड़ी एक लाख से अधिक रामभक्तों की भीड़।

 

By:

Published: 25 Nov 2018, 09:52 PM IST

अयोध्या . अपने निर्धारित समय 11:00 बजे से शुरू हुई विश्व हिंदू परिषद की विराट धर्म सभा में सुबह से ही राम भक्तों की भीड़ लगनी शुरू हो गई थी। देश के 3 स्थानों में अयोध्या के अलावा नागपुर और बेंगलुरु में भी आयोजित विराट धर्म सभा कार्यक्रम की श्रृंखला में अयोध्या में भी कार्यक्रम स्थल पर लगभग डेढ़ लाख से अधिक रामभक्त मौजूद रहे। वहीं राम भक्तों की एक बड़ी संख्या अयोध्या की सड़कों पर भी मौजूद रही जो अयोध्या के मंदिरों में दर्शन और पूजन करते नजर आए।

संघ के पूर्व नेता ने दिया राम मंदिर के लिए एक करोड़ का चंदा

कार्यक्रम के दौरान ही संघ के वरिष्ठ नेता प्रतापगढ़ के रहने वाले सियाराम गुप्ता ने राम मंदिर निर्माण के लिए एक करोड़ का चेक श्री राम जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास को सौंपा। कार्यक्रम के दौरान मंच से कई संतों ने राम मंदिर निर्माण में देरी के लिए भाजपा पर लग रहे आरोपों के मद्देनजर भाजपा का बचाव किया और मंदिर निर्माण में देरी के लिए विपक्षी दलों को जिम्मेदार ठहराया और भाजपा की वकालत की।

लाखों राम भक्तों की भीड़ के बीच कई बार ऐसे मौके भी आए जब संतों ने खुले मंच से यह कहा कि बस एक इशारा करने की देरी है और यह सारे राम भक्त राम मंदिर की तरफ चल पड़ेंगे। जब जब संतों ने मंच से यह बात कही तो सुरक्षा व्यवस्था में जुटे अधिकारियों के हाँथ पाँव फूलते नजर आए। कई बार अधिकारियों के चेहरे पर हवाइयां उडऩे लगी और उनके चेहरे पर यह डर उतर आया कि कहीं संत भीड़ को किसी तरफ चलने के लिए ना कह दे।

संतों ने भगवान राम की सौंगंध दिलाकर बल्लियों पर चढ़े रामभक्तों को नीचे उतारा

विश्व हिंदू परिषद और आर एस एस द्वारा प्रायोजित इस पूरे कार्यक्रम में करीब 4 घंटे के लंबे समय तक कार्यकर्ता अनुशासित दिखे। बीच-बीच में जय श्रीराम के नारों के बीच उत्साहित कार्यकर्ता राम भक्त बल्लियों पर चढ़ गए जिसके बाद मंच से संतों ने भगवान राम की सौगंध दिला कर उन्हें बल्लियों से नीचे उतरने पर विवश कर दिया। सर पर भगवा पट्टी बांधे जय श्री राम का नारा लगाते हुए लाखों राम भक्त कार्यकर्ता कड़ी धूप में करीब 4 घंटे तक संतों का संबोधन सुनते रहे।

विहिप पदाधिकारियों के चेहरे खिले उम्मीद से ज्यादा रामभक्त पहुंचे अयोध्या

विराट धर्म सभा में पूर्वी उत्तर प्रदेश के 42 जिलों से राम भक्तों को आमंत्रित किया गया था और विश्व हिंदू परिषद का यह संकल्प पूरा भी हुआ। कार्यक्रम में उमड़ी राम भक्तों की भीड़ देखकर विश्व हिंदू परिषद के नेताओं के चेहरे खिले नजर आए और आयोजन स्थल से गगनभेदी जय श्रीराम के नारे सुनाई देते रहे। कार्यक्रम सम्पात होने पर भी कहीं कोई अव्यवस्था नहीं दिखी और शांतिपूर्ण ढंग से रामभक्त अपने गंतव्य के लिए रवाना हो गए।

देश के इन प्रमुख संतों ने की विराट धर्मसभा में शिरकत

अयोध्या विश्व हिंदू परिषद और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा अयोध्या में आयोजित विराट धर्म सभा कार्यक्रम की अध्यक्षता युगपुरुष स्वामी परमानंद जी महाराज ने की। वहीं मंच पर उपस्थित विशिष्ट अतिथियों में श्री राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ,तुलसी पीठाधीश्वर जगदगुरू रामभद्राचार्य ,जगद्गुरु वासुदेवाचार्य विद्याभास्कर ,दिगंबर अखाड़ा के महंत सुरेश दास ,जगद्गुरु राघवाचार्य जी महाराज ,बिंदुगद्याचार्य देवेंद्र प्रसादाचार्य ,जगद्गुरु श्री धराचार्य जी महाराज ,हरिद्वार से आए रविंद्र पुरी जी महाराज ,दीपांकर जी महाराज और अयोध्या संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास के अलावा मंच पर सैकड़ों की संख्या में अयोध्या और देश के अलग-अलग राज्यों से आए वरिष्ठ संत मौजूद रहे।

Ayodhya verdict
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned