इस लोकसभा सीट पर भी ईवीएम में पड़े संख्या से ज्यादा वोट,गठबंधन ने लगाया बड़ा आरोप

इस लोकसभा सीट पर भी ईवीएम में पड़े संख्या से ज्यादा वोट,गठबंधन ने लगाया बड़ा आरोप

Anoop Kumar | Publish: May, 22 2019 01:07:15 PM (IST) Ayodhya, Ayodhya, Uttar Pradesh, India

अंबेडकरनगर लोक सभा की गोसाईगंज विधानसभा में बूथ संख्या 182 में ज्यादा वोट पड़े हैं

अयोध्या : फैज़ाबाद लोकसभा क्षेत्र के 4 बूथों पर ज्यादा वोट पड़ गए हैं जिसको लेकर जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है | अयोध्या विधानसभा के तीन और गोसाईगंज विधानसभा के एक बूथ में ज्यादा वोट पड़ गया है। गोसाईगंज विधानसभा अंबेडकरनगर लोकसभा का पार्ट है अब जिला प्रशासन इन बूथों की मतगणना वीवीपैट की पर्चियों से मिलान कर कराएगा। मामला माक पोल में गड़बड़ी से जुड़ा बताया जा रहा है।जिला प्रशासन सम्बंधित पीठासीन अधिकारी को नोटिस जारी कर रहा है | वहीं इस मामले को लेकर सपा के जिलाध्यक्ष ने निर्वाचन आयोग पर आरोप लगाया है | उनका कहना है कि देश में जिस तरह की बातें आ रही है निर्वाचन आयोग की साख पर बट्टा लग रहा है।निर्वाचन आयोग सत्ताधारी पार्टी के इशारे पर काम कर रहा है जो कि लोकतंत्र के लिए बहुत बड़ा नुकसान है | उन्होंने कहा कि जिन बूथों पर गड़बड़ी आई है उसकी मतदान मतगणना के अंत में की जाए।

ये भी पढ़ें - अयोध्या में हुआ एक ऐसा हादसा जिसे सुनकर आप भी रह जायेंगे हैरान,आखिर क्यूँ एक महिला ने गंवाई अपनी जान

अंबेडकरनगर लोक सभा की गोसाईगंज विधानसभा में बूथ संख्या 182 में ज्यादा वोट पड़े हैं

फैजाबाद लोकसभा क्षेत्र में 6 मई व अंबेडकरनगर लोक सभा में 12 मई को मतदान संपन्न हुआ था। फैज़ाबाद लोकसभा क्षेत्र के अयोध्या विधानसभा में 3 बूथ संख्या 31, 346 और 370 के ईवीएम में ज्यादा वोट पड़ गए ,जबकि अंबेडकरनगर लोक सभा की गोसाईगंज विधानसभा में बूथ संख्या 182 में ज्यादा वोट पड़े हैं। मतदाता सूची में लगे टिक व ईवीएम में पड़े मतदान की संख्या में अंतर आ गया है | जिसको लेकर चुनाव आयोग ईवीएम वीवीपट की पर्चियी से मिलान कर मतगणना संपन्न कराएगा। माना जा रहा है कि मतदान शुरू होने से पूर्व माक पोल में गड़बड़ी आई और माक पोल भी मुख्य पोल में जुड़ गया। दरअसल गोसाईगंज विधानसभा अंबेडकरनगर लोकसभा का पार्ट है लेकिन गोसाईगंज विधानसभा जनपद अयोध्या का भाग है। इन चारों बूथों व पहले से तय प्रत्येक विधानसभा की पांच 5 बूथों में वीवीपेट की पर्ची से मिलान की मतगणना को लेकर अब कुल 29 बूथों पर वीवीपेट की पर्चियों से मिलान कर मतगणना संपन्न कराई जाएगी ।

ये भी पढ़ें - पत्रिका एग्ज़िट पोल : फैजाबाद संसदीय सीट पर सबसे पहले सबसे सटीक ओपिनियन पोल जानिये कौन बनेगा सांसद

गहराई में छानबीन के बाद इसका खुलासा हुआ तो इन बूथों पर तैनात पीठासीन अधिकारियों को बड़ी चूक सामने आई है

पता चला है कि वास्तव में जितने वोट मतदाता सूची के मुताबिक डाले गए थे उससे अधिक वोट ईवीएम बता रही है। यह खबर प्रशासन के उच्च अधिकारियों को लगी तो हड़कंप मच गया। गहराई में छानबीन के बाद इसका खुलासा हुआ तो इन बूथों पर तैनात पीठासीन अधिकारियों को बड़ी चूक सामने आई है। यह चूक बूथ पर सभी प्रत्याशियों के एजेंटों से किए जाने वाले मॉक पोल और मतदाताओं से की गई मतदान को लेकर थी जोअभी तक सामने आ गई है।वहीं इस मामले को लेकर सपा के जिलाध्यक्ष गंगा यादव ने निर्वाचन आयोग पर आरोप लगाया है, उनका कहना है कि देश में जिस तरह की बातें आ रही है निर्वाचन आयोग की साख पर बट्टा लग रहा है।निर्वाचन आयोग सत्ताधारी पार्टी के इशारे पर काम कर रहा है जो कि लोकतंत्र के लिए बहुत बड़ा नुकसान है उन्होंने कहा कि जिन बूथों पर गड़बड़ी आई है उसकी मतदान मतगणना के अंत में की जाए।

ये भी पढ़ें - दिलचस्प : आठ आठ घन्टे की शिफ्ट बनाकर सपा बसपा कार्यकर्ता स्ट्रांग रूम के बाहर जमे हुए हैं

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned