scriptMP Brij Bhushan Singh will reach Ayodhya with 5 lakh supporters | 5 लाख समर्थकों के साथ सियासी ताकत का एहसास कराएंगे सांसद बृजभूषण सिंह, 5 जून को होगा बड़ा आयोजन | Patrika News

5 लाख समर्थकों के साथ सियासी ताकत का एहसास कराएंगे सांसद बृजभूषण सिंह, 5 जून को होगा बड़ा आयोजन

राम नगरी अयोध्या में 4800 किलो का केक काट कर मनाएंगे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जन्मोत्सव

अयोध्या

Published: May 30, 2022 08:17:34 pm

अयोध्या. कैसरगंज के भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह की अयोध्या में सक्रियता राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दी है। ऐसा माना जा रहा है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में बृजभूषण शरण सिंह अहम भूमिका में रहेंगे। यही कारण है कि सांसद बृजभूषण शरण सिंह स्वाभिमान रैलियों के माध्यम से समर्थन जुटा रहे हैं।
5 लाख समर्थकों के साथ सियासी ताकत का एहसास कराएंगे सांसद बृजभूषण सिंह, 5 जून को ही बड़ा आयोजन
5 लाख समर्थकों के साथ सियासी ताकत का एहसास कराएंगे सांसद बृजभूषण सिंह, 5 जून को ही बड़ा आयोजन
5 जून को अयोध्या में जुटेंगे 5 लाख समर्थक

अयोध्या में आज बृज भूषण सिंह ने अयोध्या धाम से दशरथ समाधि विल्वहरिघाट तक उत्तर भारतीय सम्मान यात्रा निकाली और कल 31 मई को अवध विश्वविद्यालय से भरत की तपोस्थली भरतकुंड तक उत्तर भारतीय सम्मान यात्रा निकालेंगे। तो वही इन कार्यक्रमों के बीच पहली बार सांसद बृजभूषण शरण सिंह 5 जून को अयोध्या धाम के तुलसी उद्यान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जन्मदिन धूमधाम से मनाएंगे। बृजभूषण शरण सिंह का दावा है कि आसपास के जिलों से 5 जून को सीएम योगी के जन्मदिन पर 5 लाख की भीड़ इकट्ठा होगी और 4800 किलो का केक काटा जाएगा। इस दौरान अपनी सियासी ताकत का एहसास कराएंगे।
कानून तोड़ने वाले ही ले रहे एक कानून का शरण

स्वाभिमान यात्रा रैली के दौरान सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि बचपन से अयोध्या से नाता रहा है और हर घर से ताल्लुक रहा है। उस याद को ताजा करने के लिए ये यात्रा निकाली गई है। 5 जून को 5 लाख लोग अयोध्या धाम इकट्ठा होंगे। सभी सरयू स्नान करेंगे और सीएम योगी का जन्मदिन मनाया जाएगा। उसके बाद रामलला और हनुमान जी का दर्शन पूजन भी होगा। 5 जून को ही राज ठाकरे के अयोध्या दौरे को लेकर उन्होंने कहा कि राज ठाकरे ने अपना अयोध्या दौरा रद्द किया यह उनका दुर्भाग्य है। उनको माफी मांग लेना चाहिए था और अयोध्या आना चाहिए था। 2008 से 6 माह पूर्व तक जो आग उगलते थे। उस आग से कानून की धज्जियां उड़ती थी वे कानून को नहीं मानते थे जिसको चाहे पीट देते थे। आज इस बात की खुशी है जो व्यक्ति महाराष्ट्र में कानून की धज्जियां उड़ाता था आज वह बृजभूषण शरण सिंह के नाम पर कानून के शरण में जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

रोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियागुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानलालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाह सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाMaharashtra Monsoon Session: व्हिप को लेकर आमने-सामने हुए शिंदे गुट और ठाकरे खेमा, महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष का जमकर हंगामाBJP के नए संसदीय बोर्ड और चुनाव समिति का गठन, गडकरी व शिवराज की छुट्टी, देखिए कौन-कौन नेता शामिलजिम्बाब्वे दौरे पर गई भारतीय टीम को BCCI ने दी सख्त हिदायत, पूल में जाने से रोका, ज्यादा देर नहाने से भी किया मानाकिडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, सरेंडर वाले दिन ही ली शपथ, नीतीश बोले-मुझे जानकारी नहींदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, पूछा - आजादी के 75 वर्ष बाद भी हम बाकी देशों से पीछे क्यों?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.