Deepotsav 2019 : अयोध्या में तीन दिवसीय दीपोत्सव कार्यक्रम में बनेगा इस वर्ष एक और रिकार्ड

Deepotsav 2019 : अयोध्या में तीन दिवसीय दीपोत्सव कार्यक्रम में बनेगा इस वर्ष एक और रिकार्ड
Deepotsav 2019 : अयोध्या में तीन दिवसीय दीपोत्सव कार्यक्रम में बनेगा इस वर्ष एक और रिकार्ड

Anoop Kumar | Updated: 06 Oct 2019, 05:59:45 PM (IST) Ayodhya, Ayodhya, Uttar Pradesh, India

खबर के मुख्य बिंदु -

- धार्मिक नगरी में 24 से 26 अक्टूबर तक तीन दिन में एक दर्जन से ज्यादा कार्यक्रम होंगे

- दुनिया के कई देशों से आ रहे कलाकार अयोध्या में देंगे प्रस्तुति

- 3 लाख 21 हज़ार दीपक जलाकर बनेगा नया वर्ल्ड रिकार्ड

अयोध्या : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के तीसरे दीपोत्सव पर राम नगरी अयोध्या में इस बार दिवाली बेहद खास होगी।पूरे शहर में करीब 3 लाख 50 हजार दीप जलाकर एक नया विश्व रिकाॅर्ड बनाने की तैयारी है। 3 लाख 21 हज़ार दीपक केवल राम की पैड़ी पर जलाए जाएंगे। इसके साथ ही 24 से 26 अक्टूबर तक तीन दिन में एक दर्जन से ज्यादा कार्यक्रम होंगे। सबसे खास कार्यक्रम होगा पांच देशों की रामलीला। माॅरीशस, थाईलैंड, इंडोनेशिया, सूरीनाम, नेपाल की रामलीला मंडलियों के कलाकार अपने देश की शैली में रामलीला का मंचन करेंगे। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में थाईलैंड के महाराजा वजीरालोंगकान मौजूद रहेंगे।देशभर के नामी चित्रकार अयोध्या को राममय करने के लिए त्रेता युग के प्रसंगों को दीवारों और बिल्डिंगों पर चित्रित करेंगे। राम प्रसंगों को रामलीला, भजन व नृत्य नाटिकाओं के माध्यम से प्रस्तुत किया जाएगा।

दीपोत्सव पर्व को आकर्षक बनाने के लिए इस साल गुप्तारघाट से लेकर भरतकुंड़ तक 12 स्थानों पर रामलीला, भजन, नृत्य नाटिकाओं के मंचन के अलावा अन्य कई कार्यक्रमों का आयोजन होगा। कई स्थलों को मेले की तर्ज पर सजाया जा रहा है। पिछले साल दीपोत्सव का कार्यक्रम राम की पैड़ी पर फोकस करके आयोजित किया गया था, लेकिन इस बार पूरे अयोध्या शहर में होगा।गुप्तारघाट से लेकर 12 किमी दूर भरतजी की तपस्थली नंदीग्राम तक आयोजन किया जाएगा। रामकथा पार्क में दो मंच बनाए जा रहे हैं। ऊपर राम दरबार लगेगा और नीचे सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा। विदेशी रामलीला शहर के अलग-अलग हिस्सों में मंचित होगी।अयोध्या महानगर इलाके में तीन दिनों तक घर-घर दीप जलाने के लिए लोगों से अपील भी की जाएगी। 32 बड़ी झांकियां और 12 जगहों पर होने वाले कार्यक्रम भी राम कथा पर आधारित होंगे। तीन दिन के इस आयोजन में इस बार नए विश्व रिकॉर्ड भी बनेंगे। रामजी के लिए 10 अक्टूबर तक अयोध्या नगरी पूरी तरह सज कर तैयार होजाएगी। विश्व रिकॉर्ड बनाने के लिए गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड की टीम राम की पैड़ी पर मौजूद रहेगी।इसके लिए अवध विश्वविद्यालय को जिम्मेदारी सौंपी गई है।जिसके वॉलिंटियर राम की पैड़ी के घाटों पर दीपदान के लिए मौजूद रहेंगे। अवध विश्वविद्यालय से सम्बद्ध कई महाविद्यालय स्वयंसेवी संस्थाओं की वॉलिंटियर्स भी दीपदान में प्रतिभाग करेंगे। इसके साथ ही राम की पैड़ी पर वाटर लेजर शो भी आयोजित किया जाएगा। राम कथा पार्क में सीएम योगी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल व उनकी टीम भगवान श्री राम माता सीता का स्वागत करने के लिए तैयार रहेगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned