राम जन्मभूमि पर पाकिस्तान की नजर संतों ने दी चेतावनी

राम मंदिर निर्माण पर पाकिस्तान को दी नसीहत कहा रहे अपनी हद में नहीं तो इस्लामाबाद में भी बनेगा राम मंदिर

By: Satya Prakash

Updated: 28 May 2020, 12:40 PM IST

अयोध्या : राम जन्मभूमि परिसर में चल रहे राम मंदिर निर्माण को लेकर पाकिस्तान में विरोधी हलचल तेज हो गई है। जिसको लेकर अयोध्या के संतों ने पाकिस्तान को नसीहत देते हुए कहा है कि अपनी हद में रहे नहीं तो अब इस्लामाबाद में भी राम मंदिर बनेगा। वही बाबरी पक्षकार इकबाल अंसारी ने भी पाकिस्तान को सीमा का उल्लंघन ना करने की हिदायत दी है।

रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हुआ है और जिसे हिंदुस्तान के मुसलमानों ने भी स्वीकार किया है ऐसे में पाकिस्तान को कोई अधिकार नहीं कि हिंदुस्तान में राम मंदिर बनेगा मस्जिद वही कहा कि हिंदुस्तान और पाकिस्तान के बंटवारे के समय बहुत से ऐसे मंदिर थे जो पाकिस्तान में चले गए थे जहां उन्हें ध्वस्त कर दिया गया. वही बताया कि पाकिस्तान विश्व में आतंकवाद फैलाते हैं जिनके कारण निर्दोष लोगों की जान की जाती है भारत के बॉर्डर पर अक्सर धोखे से हमला करके सैनिकों को मारते हैं। इसका बदला भारत सरकार जरूर लेगी।

अयोध्या संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर अब पाकिस्तान हिंदुस्तान के किसी भी क्षेत्र में नजर उठाएगी तो उसको इसका अंजाम भुगतना पड़ेगा अयोध्या में भगवान राम का जन्म स्थान है और राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण होना है इसके लिए सुप्रीम कोर्ट ने नवंबर में फैसला दिया है जिसे अयोध्या ही नहीं पूरे देश के मुस्लिम समाज के लोगों ने स्वीकार भी किया है पाकिस्तान देश के हिंदू और मुस्लिम को लड़ाने की साजिश कर रहे हैं पाकिस्तान का यह षडयंत्र कभी सफल नहीं होगा।

श्री राम कचहरी के महंत शशिकांत दास ने पाकिस्तान के इस विवादित टिप्पणी पर जवाब देते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है राम हमारे आस्था के प्रतीक हैं. साथ ही यह हमारे देश का अंदरूनी मामला है इसमें हस्तक्षेप ना करें पाकिस्तान अपनी हैसियत में रहे वही कहा कि अब वह दिन भी दूर नहीं कि जब 1 दिन ऐसा आएगा कि पाकिस्तान में भी राम मंदिर बनकर तैयार होगा

वहीं बाबरी पक्षकार इकबाल अंसारी ने भी पाकिस्तान के इस विवादित टिप्पणी पर कहां है कि हिंदुस्तान की मुस्लिम व हिंदू के बीच का मामला है जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने 9 नवंबर को अपना फैसला भी दिया है हम देश में किसी भी तरीके से विवाद नहीं चाहते हिन्दुस्तान में हमेशा हिंदू मुस्लिम भाईचारे का देश रहा है और हमेशा रहेगा पाकिस्तान हमारे देश में बने शांति को तोड़ने की कोशिश ना करें हम लोगों के बीच का मामला है और आपस में ही तय करेंगे।

Show More
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned