जर्जर हालात में गिरा सैकड़ों वर्ष पुराना पंचमुखी हनुमान मंदिर का भवन

जर्जर हालात में गिरा सैकड़ों वर्ष पुराना पंचमुखी हनुमान मंदिर का भवन

Satya Prakash | Updated: 24 Jun 2019, 04:40:58 PM (IST) Ayodhya, Ayodhya, Uttar Pradesh, India

राम नगरी अयोध्या में हुए भारी बारिश से अयोध्या के जर्जर मंदिरों में बढ़ा खतरा

अयोध्या : राम नगरी में सरयू तट स्थित सैकड़ों वर्ष पुराना पंचमुखी हनुमान मंदिर का कुछ हिस्सा जर्जर भवन होने के हालात में भारी बारिश के कारण गिर गया। इस घटना को लेकर कोई हताहत या नुकसान नहीं हुआ लेकिन जर्जर भवनों को लेकर सावन मेला से पहले प्रशासन अभी भी नहीं चेता तो किसी बड़ा हादसा हो सकता है।

योगी सरकार द्वारा अयोध्या के सौंदर्यीकरण को लेकर कई योजना के अंर्तगत कार्य किये जा रहे हैं लेकिन अयोध्या के प्राचीन मंदिरों को सुरक्षित रखने के लिए कोई ध्यान नही रखा जा रहा हैं। जिसके कारण अधिकतर भवन जर्जर हालात में तब्दील होकर समय समय पर यह जर्जर भवन गिर भी रहा हैं । वही आने वाले सावन झूला मेला को लेकर जिला प्रशासन अयोध्या में भरपूर तैयारी में जुटे हैं। लेकिन जर्जर हालात में भवनों को लेकर सिर्फ नोटिस बोर्ड लगाकर अपना पीछा छोड़ा लिया जाता हैं। आज फिर अयोध्या के राम की पैड़ी स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर का कुछ हिस्सा जर्जर भवन होने के कारण भारी बारिश में देर रात्रि गिर गया। जेबी कि पहले भी इस मंदिर कि छत टूटकर गिर चुका था । मंदिर के पुजारी के अलावा कोई अन्य व्यक्ति के ना होने के कारण अप्रिय घटना नही घट सका । लेकिन आने वाली सावन मेला को लेकर हजारों की संख्या में राम की पैड़ी पर स्थित मंदिरों में श्रद्धालु रुकते हैं । वर्ष पूर्व भी मेले के दौरान यादव मंदिर गिरने से कई श्रद्धालु की मौत हुई थी ऐसे में जर्जर भवन को लेकर कोई योजना बद्ध रूप से कार्य किया जाना चाहिए जिससे कोई घटना दुबारा न दोहराया जा सके। इस मंदिर कि देख रेख करने वाली महिला सरस्वती देवी ने भवन के मरम्मत के लिए सरकार से गुहार लगाई हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned