Ayodhya : राष्ट्रीय राजमार्ग पर लगाए गए भगवान राम की बाल लीला के चित्र

बीएचयू और महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के फाइन आर्ट के 24 छात्रों ने रामायण के प्रशंगों पर बनाई चित्र

By: Satya Prakash

Published: 20 May 2021, 05:35 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

अयोध्या. कोरोना महामारी के साथ दृढ़तापूर्वक मुकाबला करते हुए रामनगरी को संवारने का काम जारी है। रामनगरी का आध्यात्मिक परिचय अब हाईवे से ही दिखने लगा है। लखनऊ से आने वालों को भगवान राम की बाल लीला का चित्रण देखने को मिल रहा है, तो गोरखपुर और अंबेडकरनगर से आने पर अश्वमेघ यज्ञ का प्रसंग लोगों का ध्यान खींच रहा है।

नगर की सीमा सआदतगंज से लेकर रामनगरी तक 12 किलोमीटर तक का हाईवे मानो रामकथा कह रहा है। इस दूरी के बीच पड़ने वाले फ्लाईओवर की दीवारों पर बीएचयू और महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के फाइन आर्ट के 24 छात्रों को साथ लेकर बनारस की संस्था आर्ट अटैक कलर्स ऑफ ज्वॉय रामायण के प्रसंगों को चित्रों में बयां कर रही है। टीम लीडर सिद्धांत श्रीवास्तव के मुताबिक रामनगरी को संवारने में अर्जुन, संदीप, सौरभ, आदित्य, रजत, रविप्रकाश, प्रतीक, धीरेंद्र, आशीष राय आदि पूरी ऊर्जा से लगे हैं। दो अप्रैल से काम शुरू हुआ है। कड़ी धूप और कोरोना दोनों ही चुनौतियों से निपटते हुए टीम कार्य कर रही है। रामायण के अलग-अलग कांडों पर बन रहे चित्रों में लंका कांड को शामिल नहीं किया गया है। छह फ्लाइओवर और पांच अंडरपास पर यह काम किया जाना है। हाईवे के सुंदरीकरण का काम एनएचएआइ करा रहा है। इसके क्रियान्वयन में विकास प्राधिकरण अपनी जिम्मेदारी निभा रहा है। प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह और उप सचिव स्वर्णिम राज की निगरानी में काम चल रहा है। कोरोना कर्फ्यू शुरू होने से पहले रामनगरी के विकास को लेकर हुई बैठक में सांसद लल्लू सिंह की ओर से हाईवे के सुंदरीकरण का निर्देश दिया था।

Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned