scriptPlan made to defeat BJP in Ayodhya 2022 elections | अयोध्या में भाजपा को हराने के लिए बनी योजना, जाने किस मुद्दे पर होगी राजनीति | Patrika News

अयोध्या में भाजपा को हराने के लिए बनी योजना, जाने किस मुद्दे पर होगी राजनीति

अयोध्या विधानसभा सीट पर राजनीतिक पार्टियों ने नहीं की उम्मीदवारों की घोषणा स्थानीय मुद्दों के साथ राम मंदिर के मुद्दे पर भाजपा को घेरने की तैयारी, अयोध्या सीट पर राजनीतिक पार्टियों के बड़े उम्मीदवारों को उतारने की हो रही तैयारी।

अयोध्या

Published: January 19, 2022 08:01:15 pm

सत्य प्रकाश
अयोध्या. उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में एक बार फिर राम मंदिर ही अयोध्या सीट पर राजनीति का मुद्दा होगा। भाजपा जहां मंदिर निर्माण को भुनाने की कोशिश में है। तो वही अब विपक्ष भी राम मंदिर के नाम पर हुए जमीनों घोटाले के मामले को लेकर भाजपा को घेरने की योजना तैयार कर रही है।
अयोध्या में भाजपा को हराने के लिए बनी योजना
अयोध्या में भाजपा को हराने के लिए बनी योजना
अयोध्या सीट पर उतरेंगे पार्टियों के सशक्त उम्मीदवार

यूपी के अयोध्या भाजपा के लिए सबसे अहम है। इसमें 5 विधानसभा अयोध्या, रुदौली, गोसाईगंज, मिल्कीपुर और बीकापुर है। लेकिन इन सब में अयोध्या विधानसभा सीट सबसे महत्वपूर्ण है। जिस पर अभी किसी भी राजनीतिक पार्टियों ने उम्मीदवारों का ऐलान नही किया है। जिससे अन्य सीटों को भी प्रभावित करता है। जिसके कारण इस सीट पर सशक्त उम्मीदवार को उतारने की तैयारी में है।
यूपी के चुनाव में अयोध्या सीट पर जंग की तैयारी

1992 के बाद अयोध्या सीट पर बीजेपी से ही अन्य दलों के उम्मीदवारों की लड़ाई होती चली आ रही है। अयोध्या में स्थानीय मुद्दों के साथ मंदिर मुद्दा प्रमुख रहा है। और राम मंदिर को लेकर राजनीतिक पार्टियों में खूब बयान बाजी होती रही है। लेकिन इस बार राजनीतिक पार्टियां अयोध्या विधानसभा चुनाव के परिदृश्य को बदलने की तैयारी में है। अयोध्या में जहां मंदिर निर्माण का कार्य शुरू हो चुका है तो इस बार विधानसभा के चुनाव में भाजपा मंदिर निर्माण की बात करेगी। लेकिन विपक्षी अपनी राजनीति में बदलाव पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा सस्ती जमीनों को महगें दामों पर खरीदे जाने व अयोध्या में स्थानीय विधायक व अधिकारियों के द्वारा दलितों की जमीनों पर हुए धोखाधड़ी के मामले के मुद्दे से माहौल को गर्म करने की योजना है।
चुनाव में जमीन घोटाले के मुद्दे पर जनता भाजपा से पूछेगी सवाल

अयोध्या नगर कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता वीरू तिवारी के मुताबिक चुनाव में सीधे तौर पर मंदिर के लिए जमीन की खरीद का मुद्दा बनेगा। उनका कहना है आम जनता के पैसों का दुरुपयोग किया गया। जमीन को कौड़ियों के दाम पर खरीद कर बीजेपी के जनप्रतिनिधियों ने करोड़ो कमाएं इसके कुछ दिन बाद जिले के नौकरशाहों ने करोड़ो की जमीन अपनों के नाम करा ली। उन्होंने कहा जनता की आवाज दबाने के लिए सरकार ने जांच कमेटी बनाई। लेकिन जांच में क्या निकला यह अभी तक नहीं बताया गया। इस चुनाव में जनता सरकार से जांच के नतीजे जरुर पूछेगी।
अयोध्या में राम मंदिर के साथ स्थानीय मुद्दा बनेगा चुनावी एजेंडा

वहीं अयोध्या में सपा के प्रवक्ता बलराम यादव ने कहा है कि समाजवादी पार्टी सरकार में मंत्री रहे तेज नारायण पांडेय ने इस मुद्दे को पुरजोर तरीके से उठा कर सरकार से जांच की मांग की थी। इसलिए सरकार ने जांच कराई। हालांकि नतीजा अभी तक पता नहीं चला। उन्होंने कहा इसी के साथ कानून व्यवस्था ,बेरोजगारी ,महंगाई और भ्रष्टाचार के मुद्दों को भी पुरजोर तरीके से उठाया जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीश्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.