अयोध्या के राम बारात में पीएम मोदी व सीएम योगी होंगे महत्वपूर्ण किरदार

-21 नवंबर को अयोध्या से जनकपुर रवाना होगी राम बारात

-राम विवाह आयोजन में 108 गरीब बालिकाओं का होगा कन्यादान

सत्य प्रकाश
अयोध्या : सुप्रीम कोर्ट से राममंदिर के पक्ष में आए फैसले के बाद इस बार राम नगरी अयोध्या में राम विवाह बेहद खास रूप में मनाया जाएगा। परंपरागत रूप से अयोध्या से जनकपुर निकले वाली बरात मैं इस वर्ष बड़ी संख्या में राम भक्त शामिल होने की संभावना है वहीं इस बरात में पीएम मोदी या सीएम योगी आदित्यनाथ को भी न्योता दिया गया है माना जा रहा है कि अयोध्या में निकलने वाली बारात के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ तो वही जनकपुर में पीएम नरेंद्र मोदी भी शामिल होंगे। वह इस बार नेपाल कि राज्य परिवार भी जनकपुर के इस आयोजन में शामिल हो सकता है ।इस आयोजन को लेकर विश्व हिंदू परिषद पूरी तरह तैयारी कर रही है 21 नवंबर को अयोध्या के कारसेवक पुरम से राम बारात निकाली जाएगी जो कि अयोध्या के प्रमुख शहरों के होने के बाद यह जनकपुर के लिए रवाना होगी।

विश्व हिन्दू परिषद के संयोजन और धर्मयात्रा महासंघ के बैनर तले अयोध्या से जनकपुर (नेपाल) के लिए निकाली जाएगी । श्रीराम विवाह आयोजन समिति के संयोजक तथा विहिप केन्द्रीय मंत्री राजेन्द्र सिंह पंकज ने बताया कि बारात 21 नवंबर को कारसेवकपुरम् से धूमधाम से निकाली जाएगी। यह बारात विभिन्न पड़ावों से गुजरते हुए 28 नवंबर को जनकपुर पहुंचेगी। 29 नवंबर को दशरथ मंदिर के प्रांगण में तिलकोत्सव, 30 नवम्बर को कन्या पूजन के अलावा मटकोर का आयोजन किया जाएगा।”
वही बताया कि विवाहोत्सव से पहले रामलीला में धनुष यज्ञ का भी आयोजन होगा। फिर रात में विधिपूर्वक विवाह संपन्न होगा। दो दिसंबर को कलेवा का आयोजना होगा। इस दौरान एक सौ आठ निर्धन बालिकाओं का सामूहिक विवाह भी अयोजित किया जाएगा। फिर तीन दिसम्बर को जनकपुर से बारात वापस अवधधाम आ जाएगी। उन्होंने बताया बारात के साथ दो सुसज्जित रथ रहेंगे जिस पर भगवान के स्वरूप रहेंगे। इस बार बारात में अयोध्या, हरिद्वार, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के संत शामिल होंगे। इसके अलावा नेपाल के राज परिवार के शामिल होने की संभावना है। आमंत्रण उन्हें भी भेजा गया है। साथ ही बताया कि यह राम बारात हर पांचवें वर्ष निकलती है। 2004 से इसकी जिम्मेदारी विहिप को मिली है। 2004 में विश्व हिंदू परिषद को जिम्मेदारी मिली थी। इसके बाद 2009 और 2014 में निकाली गई। अब 2019 में निकाली जानी है। बारात के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी जनकपुर मे विवाह के शुभ अवसर पर आमंत्रित किया गया है।
वही विहिप प्रवक्ता शरद शर्मा ने बताया कि कारसेवकपुरम् से 21नवंबर को प्रातः बारात यात्रा को श्रीरामजन्म भूमि न्यास अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास वैदिक मंत्रोंचारण के साथ प्रस्थान करायेंगे।बारात मे समलित होने के लिए दूर दराज से संतों और रामभक्तो का आगमन आज से ही प्रारंभ हो गया है।

Show More
Satya Prakash
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned