script PM मोदी के वे 4 दोस्त जो कभी बिछड़ गए, अयोध्या में दूरियां हो जाएंगी खत्म | PM Modi's 4 friends were separated, distance will end in Ayodhya | Patrika News

PM मोदी के वे 4 दोस्त जो कभी बिछड़ गए, अयोध्या में दूरियां हो जाएंगी खत्म

locationअयोध्याPublished: Jan 15, 2024 12:32:46 pm

Submitted by:

Upendra Singh

देश के प्रधानमंत्री बनने से पहले से नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री रहे हैं। उसके पहले वह भाजपा और संघ परिवार की योजना से संगठन मंत्री सहित अन्य पदों पर कार्य करते रहे। संगठन का काम करते समय से लेकर छात्र जीवन तक उनके कुछ गहरे दोस्त बने लेकिन वक्त के साथ दूरियां भी बढ़ गई।

praveen_togadiya.jpg
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ लालजी भाई पटेल और डॉ. प्रवीण तोग‌ड़िया।
22 जनवरी को राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होने वाला है। जानकारी कम ही लोगों को है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के के गहरे दोस्त भी इस अवसर पर जुट रहे हैं, जो पिछले दो दशकों से बहुत दूर हैं। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट क्षेत्र के बुलावे पर विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष रहे डॉ प्रवीण भाई तोगडिय़ा आ रहे हैं। हांलाकि गुरुग्राम में हुई एक बैठक के बाद तोगडिय़ा को विहिप से पदमुक्त कर दिया गया था, जिसके बाद उन्होंने अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद का गठन कर लिया था। जिसके बाद तोगडिय़ा का संघ परिवार से भी दूरी बढ़ गई थी। अब यह दूरी खत्म होने की उम्मीद की जा रही है।
pm_modi_1.jpg
IMAGE CREDIT: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दोस्त संजय जोशी।
डॉ. प्रवीण भाई तोगड़िया कभी नरेंद्र मोदी के गहरे दोस्त हुुआ करते थे
अयोध्या 22 जनवरी को आने से पहले तोगडिय़ा गोरखपुर पहुुंचेंगे। 15 जनवरी को गोरखपुर से अयोध्या तक वह राम लला धन्यवाद यात्रा निकालेंगे। इस दौरान वह रामभक्तों को संबोधित भी करेंगे। पेशे से कैंसर सर्जन रहे डॉ प्रवीण भाई तोगडिय़ा कभी नरेंद्र मोदी के गहरे दोस्त हुआ करते थे, लेकिन वक्त के साथ और संगठन के कार्यों के चलते दोस्ती में दरार आ गई। बाद में तोगडिय़ा और मोदी के बीच दूरियां बढ़ती गईं, जो अब खत्म होने की उम्मीद की जा रही है।
praveen_togadiya.jpg
IMAGE CREDIT: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ लालजी भाई पटेल और डॉ. प्रवीण तोग‌ड़िया।
कौन-कौन संघ परिवार में रहा है मोदी का दोस्त
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बचपन से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता रहे हैं। इसके बाद वह प्रचारक जीवन अपना लिए थे और बाद में भारतीय जनता पार्टी के संगठन के कार्यों में सक्रिय हो गए थे। संघ की शाखा में जाते हुए नरेंद्र मोदी के दोस्तों में डॉ प्रवीण भाई तोगडिय़ा, संजय भाई जोशी, लालजी भाई पटेल और स्वर्गीय अरुण जेटली गहरे दोस्त रहे हैं। जिसमें डॉ प्रवीण भाई तोगडिय़ा विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष हो गए। जबकि संजय जोशी संघ के प्रचारक रहते हुए भाजपा के संगठन मंत्री बनाए गए। जबकि लालजी भाई पटेल गुजरात में संघ का कार्य करते रहे और बाद में स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय पदाधिकारी के रुप में अनेक जिम्मेदारियों का वहन करते रहे हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो