Ram Mandir : जाने- किस दिशा में कितना बढ़ेगा राम जन्मभूमि का परिसर, कई मंदिर भी होंगे शामिल

श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने 2 करोड़ की लागत से खरीदा 1040 वर्ग मीटर की अतिरिक्त भूमि

By: Satya Prakash

Published: 04 Mar 2021, 09:22 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण के लिए नींव निर्माण की प्रक्रिया की जा रही है तो वहीं अब राम जन्मभूमि परिसर के विकास के लिए पहले चरण में विस्तार की भी प्रक्रिया शुरू कर दिया गया है। 70 एकड़ के परिसर को 108 एकड़ किये जाना है जिसके लिए 38 एकड़ भूमि ली जाएगी। अभी श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने पहला भूखंड 1040 वर्ग मीटर जमीन अतिरिक्त भूमि जगदीश कुमार से बैनामा कर लिया है। जिसके लिए दो करोड़ की राशि दी गई है। और जल्द ही राम जन्मभूमि परिसर को 108 एकड़ बनाए जाने की प्रक्रिया शुरू किए जाने के साथ ही अब अन्य मंदिर भवन व भूखंडों की खरीदी के लिए भी ट्रस्ट स्वामियों से संपर्क कर रहा है।

राम जन्मभूमि से सटे है ये प्रमुख मंदिर

राम जन्मभूमि परिसर से कई मंदिर जिसमे रंग महल, जगन्नाथ मंदिर, लवकुश मंदिर, राम कचहरी, अमवा मंदिर, राम गुलेला, अरविंद आश्रम, फकीर राम, कौशल्या भवन, सुंदर सदन, श्री रंगदेव संस्कृति महाविद्यालय, उनवल मंदिर, बजरंग भवन, मालीमन्दिर, रंगवाटिका, गोकुल मंदिर सहित अन्य कई स्थान है। इसमें से कई मंदिरों को राम जन्मभूमि परिसर में शामिल किया जाएगा। लेकिन कई मंदिर के भूमि के कुछ हिस्सों को ही लिया जा सकता है।

108 एकड़ बनाये जाने के संभावित क्षेत्र

राम जन्मभूमि परिसर के पश्चिम उत्तर की दिशा में दुराही कुआं क्षेत्र में 5 एकड़ की भूमि हैं। वहीं दक्षिण की दिशा में गुरुकुल धर्मधाला व यूसुफ आरा मशीन के बीच अन्य स्थान की लेकर 12 एकड़ भूमि को अधिग्रहित किया जा सकता है। वहीं पूर्व क्षेत्र में मुख्य गेट बनाये जाने के साथ दर्शनार्थियों के लिए मुख्य दर्शन मार्ग भी बनाये जाएंगे जिसके लिए रंग महल मंदिर के पीछे से राम गुलेला मंदिर तक लगभग 20 एकड़ भूमि को एक्वायर किया जाने की संभावना है।

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी के मुताबिक रामजन्मभूमि परिसर को 70 एकड़ से बढ़ाकर न्यूनतम 108 व अधिकतम 120 एकड़ तक ही किया जा सकता है जिसके लिए ट्रस्ट के सदस्य डॉ अनिल मिश्रा द्वारा स्वामियों से संपर्क कर रहे हैं। वही जानकारी दी है कि राम मंदिर निर्माण 3 वर्ष में किए जाने हैं अभी परिसर के विस्तारीकरण को लेकर किसी प्रकार की जल्दी नहीं है। वही जानकारी दी है कि परिसर से सटे कई अन्य मंदिर भी शामिल हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें : राम जन्मभूमि परिसर को 70 से 108 एकड़ बनाए जाने की प्रक्रिया शुरू

Ram Mandir
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned