Ram Mandir : राम मंदिर गर्भगृह स्थल पर हुआ नवग्रह पूजन, नींव में डाली गई पूजित 9 शिलाएं

5 अगस्त को पीएम मोदी द्वारा भूमि पूजन में पूजित की गई शिलाएं, धातुओं को नींव में किया गया स्थापित

By: Satya Prakash

Published: 17 May 2021, 01:04 PM IST

सत्य प्रकाश
पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
अयोध्या. श्री रामलला मंदिर के गर्भगृह स्थल पर नवग्रह के पूजन के साथ 9 शिलाओं स्थापित किया गया। इसके साथ 5 अगस्त को पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा पूजित शिलाएं, चांदी की कलश व अन्य धातु को नींव में डाला गया। इस पूजन में संघ के सह सरकार्यवाह भैयाजी जोशी, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पतराय, निर्मोही अखाड़ा के महंत व ट्रस्ट के सदस्य दिनेंद्र दास, सदस्य डॉ अनिल मिश्रा ने किया इस दौरान विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय मंत्री राजेंद्र सिंह पंकज व कार्यदाई संस्था l&t, TCE और बालाजी टकसन कंपनी के अधिकारी मौजूद रहे।

राम जन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण के लिए 40 फुट गहरी खुदाई की गई नींव की ग्राउंड के इम्प्रुमेंट का कार्य किया जा रहा है। जिसके लिए 400 फुट लंबा, 300 फुट चौड़े स्थल को इंजीनियर फिल्म मैटेरियल से लगभग 44 लेयर के माध्यम से भरी जाएगी। वर्तमान में 300 एमएम की दो लेयर बिछाई जा चुकी हैं। तो वही आगे इस कार्य को तेज गति से किया जा सके और बरसात के पहले ही इस कार्य को पूरा किया जा सके इसके लिए परिसर में बड़ी मात्रा में वर्कर व मशीनों को लगा दिया गया है।

5 अगस्त 2020 में देश की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राम मंदिर निर्माण के लिए किए गए भूमि पूजन निकाली गई खिलाए व धातुओं को ग्राउंड इंप्रूवमेंट ( नींव भराई ) के दौरान गर्भ ग्रह स्थल पर स्थापित किया गया। जिसके लिए आज सुबह 7 बजे से इस वैदिक मंत्रों के द्वारा पूजन प्रारम्भ किया गया। और 9.15 मिनट पर सभी 9 सिलाई नंदा, अजिता, अपराजिता, भद्रा, रिक्ता, जया, शुक्ला, पूर्णा, सौभाग्यनी को स्थापित किया गया। जिसके बाद अन्य धातु चांदी से बनी कछुआ, नाग नागिन, पंच धातु से बनी नवरत्न जड़ित कमल का फूल, बकुल वृक्ष की जड़ से निर्मित संकुल व चांदी की कलश को भी स्थापित किया गया।

Ram Mandir
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned