scriptRam Mandir Trust does not agree on extension of darshan period | श्री रामलला के दर्शन अवधि बढ़ाये जाने पर सहमत नही राम मंदिर ट्रस्ट, चम्पतराय ने बताई बड़ी वजह | Patrika News

श्री रामलला के दर्शन अवधि बढ़ाये जाने पर सहमत नही राम मंदिर ट्रस्ट, चम्पतराय ने बताई बड़ी वजह

राम नगरी अयोध्या में भगवान श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण का दर्शन करने के लिए देश व विदेशों से लाखों श्रद्धालु पहुंचे रहे। लेकिन ट्रस्ट ने कहा सुरक्षा के कारण दर्शन के समय को बढ़ाया जाना संभव नही

अयोध्या

Published: November 26, 2021 11:19:56 pm

अयोध्या. राम जन्म भूमि परिसर में चल रहे मंदिर निर्माण के प्रति लोगों की आस्था दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। कोरोना काल के बाद पहली बार कार्तिक मेले को लेकर ट्रस्ट ने अनुमान बताया कि परिक्रमा मेले के दौरान 50 हजार लोग राम जन्मभूमि परिसर में प्रवेश किए थे। तो वही दीपावली के दूसरे दिन अन्न कूट मनाने के लिए 20 हजार श्रद्धालुओं ने श्री रामलला का दर्शन किया था। और आज भी हजारों की भक्त रामलला का दर्शन कर रहे हैं।
 श्री रामलला के दर्शन अवधि बढ़ाये जाने पर सहमत नही राम मंदिर ट्रस्ट, चम्पतराय ने बताई बड़ी वजह
श्री रामलला के दर्शन अवधि बढ़ाये जाने पर सहमत नही राम मंदिर ट्रस्ट, चम्पतराय ने बताई बड़ी वजह
श्री रामलला का दर्शन करने रोज हजारों की संख्या में पहुंच रहे श्रद्धालु

राम नगरी अयोध्या में भगवान श्री राम की भव्य मंदिर निर्माण के साथ श्रद्धालुओं की संख्या भी बढ़ती जा रही है प्रत्येक दिन लाखों की तादात में लोग भगवान श्री रामलला का दर्शन करने की इच्छा लिए अयोध्या पहुंच रहे हैं। लेकिन समय की उपलब्धता पूरी ना होने के कारण बहुत से लोग रामलला के दरबार नहीं पहुंच पा रहे है। इसको लेकर लगातार सुरक्षा अधिकारियों व राम जन्मभूमि ट्रस्ट के बीच बैठक के दौरान समय को बढ़ाए जाने की योजना पर विचार किया गया। वही राम मंदिर ट्रस्ट इस योजना पर सहमत नहीं है।
आतंकी घटनाओं के कारण निश्चित समय में ही होगा दर्शन

राम जन्मभूमि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि अन्य मंदिरों की अपेक्षा राम जन्मभूमि परिसर में भी दर्शन की अवधि को बढ़ाए जाने के बारे में सोचता है सुरक्षा के अधिकारी भी मानते हैं लेकिन अयोध्या के लोग इससे भली भांति जानते हैं कि 5 जुलाई 2005 में जिस प्रकार से आतंकवादी हमला हुआ उसके बाद भी दो चार बार कुछ लोग पकड़े गए है इसका विकल्प नहीं है। वही बताया कि दर्शन अवधि बढ़ाए जाने के बाद अंधेरे में जांच-पड़ताल की कार्रवाई कैसे पूरी की जा सकती है। हमें सभी कठिनाइयों को समझना है हनुमानगढ़ी कनक भवन जैसी स्थिति राम जन्मभूमि पर नहीं है। क्योंकि अगर कोई खुराफाती दिमाग करने वाला व्यक्ति जनता के बीच घटना कर क्या करने का कार्य करेगा। ऐसी परिस्थिति में कोई सलाह नहीं दिया जा सकता है। ठाकुर जी की सुरक्षा जनता के जानमल की सुरक्षा अयोध्या के व्यापारियों की सुरक्षा जरूरी है इसलिए लोग दिन में आए दर्शन करें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: परम विशिष्ट सेवा मेडल के बाद नीरज चोपड़ा को पद्मश्री, देवेंद्र झाझरिया को पद्म भूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीAloe Vera Juice: खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से मिलते हैं गजब के फायदेगणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने में क्या है अंतर, जानिए इसके बारे मेंRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस परेड में हरियाणा की झांकी का हिस्सा रहेंगे, स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.