scriptSaint statement on Shivpal Yadav sharing the photo of Lord Ram | शिवपाल यादव के प्रभु राम की फ़ोटो शेयर करने पर बोले सन्त : कहा कर्मों को साफ करने का है अवसर मांगे माफी करे प्राश्चित | Patrika News

शिवपाल यादव के प्रभु राम की फ़ोटो शेयर करने पर बोले सन्त : कहा कर्मों को साफ करने का है अवसर मांगे माफी करे प्राश्चित

राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने कहां शिवपाल यादव भगवान श्री राम लला के शरण में माफी मांग कर करे प्राश्चित

अयोध्या

Published: April 04, 2022 09:17:04 pm

अयोध्या. उत्तर प्रदेश की राजनीतिक सियसत में घमासान मचा हुआ है विधानसभा चुनाव के बाद चाचा भतीजा के बीच राजनीतिक पार्टियो की भी दूरी बढ़ती जा रही है दरसल चाचा शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी से नाराज होने के बाद अब भाजपा में शामिल होने की अटकलें बनी हुई है। लेकिन इस बीच शिवपाल यादव ने अपनी टि्वटर हैंडल पर भगवान श्री राम दरबार की फोटो शेयर की है। माना जा रहा है कि भाजपा में शामिल होने से पहले शिवपाल यादव रामलला से अनुमति लेने के लिए अयोध्या पहुंच सकते हैं।
शिवपाल यादव के प्रभु राम की फ़ोटो शेयर करने पर बोले सन्त : कहा कर्मों को साफ करने का अवसर
शिवपाल यादव के प्रभु राम की फ़ोटो शेयर करने पर बोले सन्त : कहा कर्मों को साफ करने का अवसर
शिवपाल यादव के लिए शुभ अवसर

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव के द्वारा भगवान श्री राम दरबार के शेयर किए गए फोटो कर साथ लिखा है कि भगवान श्रीराम का चरित्र परिवार, संस्कार और राष्ट्र निर्माण की सर्वोत्तम पाठशाला है। चैत्र नवरात्र आस्था के साथ ही प्रभु राम के साथ आदर्श से जुड़ने व उसे गुनने का भी क्षण है। जिसको को लेकर अयोध्या के संतों ने भी शिवपाल यादव को अपने अपने कर्मों की साफ करने शुभ अवसर बताया है। और कहा कि राम भक्तों के रक्त को बहाने वाले मुलायम सिंह यादव व उनके पुत्र अखिलेश यादव का साथ छोड़ कर भगवान श्री राम शरण मे पहुंचकर क्षमा मांगे।
आस्था के प्रति समर्पित हुए शिवपाल : सत्येंद्र दास

राम जन्म भूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा कि वर्षों के बाद यदि अब शिवपाल यादव को भगवान के प्रति आस्था जगी है वाह बहुत ही सम्मानीय है क्योंकि जब कोई भी अपराधी के बाद भी यदि वह व्यक्ति भगवान के शरण में जाता है तो भगवान उसे अपनाते हैं इसलिए यदि अब उनके मन में भगवान के प्रति आस्था जगी है तो वह अच्छी बात है लेकिन इसके साथ ही अभी देखना होगा कि जिस समय मुलायम सिंह यादव मुख्यमंत्री थे और राम भक्तों पर गोलियां चलवाई थी ऐसे में परिवार का जो मुखिया करता होता है उसका प्रभाव पूरे परिवार पर पड़ता है इसलिए शिवपाल यादव अयोध्या में सबसे पहले भगवान राम लला के समक्ष अपने परिवार के प्रति क्षमा मांगे। तो वही कहा कि यदि शिवपाल यादव आस्था के प्रति समर्पित होकर भाजपा में शामिल होते हैं और संकल्प लेते हैं तो अयोध्या के साधु संत जिस प्रकार से भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के प्रति सम्मान रखते हैं उसी तरह शिवपाल यादव को भी सम्मान संत समाज देगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Assam Flood: असम में बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही, स्टेशन डूबे, पानी के बहाव में ट्रेन तक पलटीकांग्रेस के बाद अब 20 मई को जयपुर में भाजपा की राष्ट्रीय बैठक, ये रहा पूरा कार्यक्रमTRAI के सिल्वर जुबली प्रोग्राम में PM मोदी ने लॉन्च किया 5G टेस्ट बेड, बोले- इससे आएंगे सकारात्मक बदलावपूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिंदबरम के बेटे के घर पर CBI की रेड, कार्ति बोले- कितनी बार हुई छापेमारी, भूल चुका हूं गिनतीकुतुब मीनार और ताजमहल हिंदुओं को सौंपे भारत सरकार, कांग्रेस के एक नेता ने की है यह मांगकोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्टपूनियां हत्याकांड में बड़ा अपडेट : चौथे दिन भी नहीं हुआ पोस्टमार्टम, शव उठाने को लेकर मृतक के भाई के घर पर चस्पा किया नोटिसहरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.