scriptSecurity beefed up in Ayodhya after input | बम से उड़ाने की धमकी के बाद छावनी में बदली अयोध्या, एटीएस के कमांडो भी तैनात | Patrika News

बम से उड़ाने की धमकी के बाद छावनी में बदली अयोध्या, एटीएस के कमांडो भी तैनात

राम नगरी अयोध्या में भगवान श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण के बीच मिली अयोध्या को बम से उड़ाने की धमकी को लेकर राम जन्मभूमि परिसर सहित राम नगरी की बढ़ाई गई सुरक्षा प्रवेश मार्गो पर कड़ा पहरा

अयोध्या

Published: December 02, 2021 03:32:40 pm

अयोध्या. राम नगरी अयोध्या को बम से उड़ाने की धमकी दिए जाने की अफवाह फैलने के बाद पूरी अयोध्या की सुरक्षा को सख्त कर दिया गया धार्मिक नगरी में प्रवेश होने वाले सभी मार्गों पर आने जाने वाले लोगों की जांच के बाद ही प्रवेश दिया जा रहा है। तो वही राम जन्मभूमि परिसर से सटे क्षेत्रों की जांच पड़ताल की जा रही है। इसके साथ ही पूरे अयोध्या की सुरक्षा को देखते हुए सीआरपीएफ और एटीएस की टीम तैनात की गई है।
बम से उड़ाने की धमकी के बाद छावनी में बदली अयोध्या, एटीएस के कमांडो भी तैनात
बम से उड़ाने की धमकी के बाद छावनी में बदली अयोध्या, एटीएस के कमांडो भी तैनात
राम जन्मभूमि परिसर के आसपास बढ़ाई गई सुरक्षा

राम जन्मभूमि पर भगवान श्री राम के भव्य मंदिर का निर्माण तेजी से किया जा रहा है तो इस बीच 6 दिसंबर की तारीख भी नजदीक है। इस दिन 1992 में राम जन्मभूमि परिसर में विवादित ढांचा को गिराए जाने की घटना हुई थी जिसके बाद से अयोध्या आतंकी निशाने पर है। तो वहीं आज डायल 112 पर अयोध्या में हमले की इनपुट होने की सूचना मिली है। जिसको लेकर अयोध्या के सभी प्रवेश मार्ग पर सुरक्षा बढ़ा दिया गया तो वही रामकोट क्षेत्र की सुरक्षा भी सख्त कर दी गई है परिसर आने-जाने वालों पर सुरक्षा एजेंसियां नजर बनाए हुए हैं तो वही सीसीटीवी कैमरे से भी निगरानी की जा रही है। साथ ही राम जन्मभूमि परिसर से सटे सभी क्षेत्र में तलासी की जा रही है। और एटीएस व सीआरपीएफ के जवान अयोध्या में भ्रमण कर रहे हैं।
इनपुट की जांच में जुटे अधिकारी

अयोध्या के क्षेत्राधिकारी आरके चतुर्वेदी ने जानकारी दी है कि राम जन्मभूमि परिसर अति संवेदनशील है और मेले में भी सुरक्षा लगे रहे यलो जोन व रेड जोन में एटीएस लगी रही उसी क्रम में जो ड्रिल होती है उस के थ्रू अभी बीच में हम लोग चेकिंग का कार्य करते हैं जिससे कोई भी संदिग्ध हो जो अपने आप को छुपा रहा हूं और जिसकव लगता हो कि हम निष्क्रिय पड़े हैं। इसी को दृष्टिगत रखते हुए चेकिंग कराई जा रही है। वह इनपुट की जानकारी को लेकर बताया कि व्हाट्सएप और सोशल मीडिया के थ्रू इनपुट आते रहते हैं और जो इनपुट आए हैं उनकी जांच करा रहे हैं। कि इसमें क्या सत्यता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

India-Central Asia Summit: सुरक्षा और स्थिरता के लिए सहयोग जरूरी, भारत-मध्य एशिया समिट में बोले पीएम मोदीAir India : 69 साल बाद फिर TATA के हाथ में एयर इंडिया की कमानयूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP assembly elections 2022: अखिलेश के वादाखिलाफी पर फूट-फूट कर रोई पूर्व मंत्री की पत्नी शमा वसीम, सपा पर भारी पड़ सकता है आंसूWeather News- दो दिन बाद मिलेगी सर्दी से राहत, तापमान में होगी बढ़ोतरीस्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- अभी कोरोना का खतरा बरकरार, 11 राज्यों में 50 हजार से ज्यादा एक्टिव केस, संक्रमण दर 17.75 फीसदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.