Ram Navami : श्री रामलला के जन्मोत्सव पर 2 कुंतल पंजीरी,1 कुंतल पंचामृत के साथ पेड़ा व फल का लगेगा भोग

Covid प्रोटोकॉल के बीच मनाई जाएगी श्री रामलला का जन्मोत्सव, प्रसाद वितरण के लिए बनाई जाएगी 500 थैली

By: Satya Prakash

Updated: 19 Apr 2021, 06:01 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
अयोध्या. श्री राम जन्मभूमि पर भगवान श्री रामलला का जन्मोत्सव बड़े ही भव्यता के साथ मनाए जाने की तैयारी है लेकिन या पूरा उत्सव कोविड-19 की प्रोटोकॉल के तहत ही मनाया जाएगा दौरान कोई भी श्रद्धालु व दर्शनार्थी राम जन्मभूमि परिसर में प्रवेश नहीं कर सकेगा। राम जन्म उत्सव को लेकर रामलला के विशेष प्रकार की प्रसाद की व्यवस्था भी की जा रही है।

21 अप्रैल को मनाया जाएगा जन्मोत्सव

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का जन्म चैत्र शुक्ल पक्ष, नवमी तिथि, पुनर्वसु नक्षत्र , कर्क लग्न में दोपहर 12:00 बजे हुआ था। और इस वर्ष यह मुहूर्त 21 अप्रैल को पड़ रहा है। इसके लिए इस वर्ष भगवान श्री रामलला का भव्य जन्मोत्सव पर विशेष प्रसाद की व्यवस्था की जा रही है श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के द्वारा रामलला के प्रसाद को सुरक्षा में लगे जवानों व मंदिर निर्माण कार्य में लगे लोगों को ही दिया जाएगा जिसके लिए 500 प्रसाद थैलियां तैयार की जाएगी।

जन्मोत्सव मे नहीं शामिल हो सकेंगे श्रद्धालु

इस वर्ष भी भगवान श्री राम लला का जन्मोत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाई जाने की तैयारी थी । लेकिन विगत 2 वर्षों से रामलला के जन्मोत्सव कार्यक्रम पर कोरोना संक्रमण के खतरे का प्रभाव देखने को मिला है। पिछले वर्ष भी भगवान राम जब टेंट से निकलकर अस्थाई भवन में विराजे तो कोरोना संक्रमण काल के खतरे के चलते भव्य और दिव्य तरीके से राम जन्मोत्सव नहीं मनाया गया था। इस बार भी जब भगवान श्री राम का मंदिर का निर्माण शुरू हो गया तो भी कोरोना संक्रमण का खतरा बना हुआ है ऐसे में इस वर्ष भी बिना श्रद्धालु के भव्य उत्सव मनाए जाने की तैयारी है।

पंजीरी, पंचामृत, पेड़ा, पंचमेवा, फल, फलाहारी पकौड़ी से लगेगा भोग

भगवान श्री रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास के मुताबिक रामनवमी पर भगवान श्री रामलला को विशेष प्रकार के व्यंजन पंजीरी, पंचामृत, पेड़ा, पंचमेवा, फल, फलाहारी पकौड़ी से भोग लगाया जाएगा वही कहा कि आम दिनों की अपेक्षा इस पर्व के दौरान विशेष प्रसाद बनाए जाने की व्यवस्था बनाई गई है। कहा कि राम मंदिर ट्रस्ट की तरफ से बनाई जा रही व्यवस्था में 500 पैकेट प्रसाद तैयार किया जा रहा है जिसमें लगभग 2 कुंटल पंजीरी, 1 कुंटल पंचामृत, उसी अनुपात से ही पेड़ा पांचों मेवा फल आदि प्रसाद का भोग लगा कर पैकेट में राम जन्म भूमि परिसर की सुरक्षा में तैनात सुरक्षा कर्मियों व राम मंदिर निर्माण कार्य से जुड़े लोगों को दिया जाएगा।

Ram Mandir
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned