ईराक में भगवान श्री राम की मिली मूर्ति की हो सुरक्षा बने मंदिर

ईराक में भगवान श्री राम की मिली मूर्ति की हो सुरक्षा बने मंदिर

Satya Prakash | Updated: 14 Jun 2019, 04:33:59 PM (IST) ayodhya

अयोध्या के संतों ने पीएम मोदी से की मांग ईराक सरकार बनाये मंदिर की जाए पूजा नही तो मूर्ति को लाये भारत

अयोध्या : ईराक के सिलेमानिया क्षेत्र में मिली भगवान श्री राम व हनुमान जी की प्राचीन मूर्ति को सुरक्षित रखे जाने को लेकर अयोध्या के संतों ने केंद्र सरकार से मांग की हैं दरसल इराक में हाईवे के पास हो रहे खुदान के दौरान भगवान श्रीराम व हनुमान जी की मोती मिली है वहीं यह मूर्ति 6000 वर्ष पुरानी बताई जा रही है। जिसको लेकर इराक ने भारत सरकार को पत्र भी लिखा है वही इराक में मिले इस मूर्ति को लेकर अयोध्या के संतों ने भारत सरकार से मांग की है कि ईराक में मिली मूर्ति को सुरक्षित मंदिर में रखा जाए यद्यपि वह मुस्लिम देश होने के नाते यदि इस मूर्ति की सुरक्षा ना हो सके तो वह भारत में लाकर उसे सुरक्षित किया जाए।

वही संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास ने कहा कि इराक में मिली मूर्ति से हंसे धोता है कि पुराने समय में भी राम वाला हनुमान उपासक इस देश में हुआ करते थे भारत सरकार से मांग किया कि इराक में मिर्च प्रतिमा को भव्य मंदिर में विराजमान कराया जाए जहां उनकी पूजा-अर्चना भी किया जा सके यदि मुस्लिम देश होने के नाते इराद में मंदिर ने भगवान को सुरक्षित नहीं रखा जा सकता तो इराक सरकार उस मूर्ति को अभिलंब सम्मान पूर्वक भारत सरकार को सौंपा जाए

वही अयोध्या के महंत जगतगुरु राम दिनेश आचार्य ने बताया कि भगवान श्रीराम पूरे विश्व मैं विराजमान है और भारत ही नहीं पूरे विश्व मैं भगवान राम का अस्तित्व संभावित है। जिसका प्रमाण इराक से मिली भगवान श्री राम की मूर्ति है बताया कि इस मूर्ति को लेकर जांच होनी चाहिए और मूर्ती संरक्षित करने का कार्य इराक में हो यद्यपि भगवान की मूर्ति को संरक्षित नहीं किया जा सकता तो उसे भारत को सौंपा जिससे भगवान की मूर्ति सुरक्षित हो सके

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned