मंदिर निर्माण में मिले 22 करोड़ का 15000 चेक वापस

निधि समर्पण अभियान में मिले थे 15000 चेक गड़बड़ी के कारण हुई वापस

By: Satya Prakash

Published: 16 Apr 2021, 03:57 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
अयोध्या. राम मंदिर निर्माण के लिए मकर संक्रांति से माघ पूर्णिमा तक चलाए गए निधि समर्पण अभियान व डिजिटल के माध्यम से श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खाते में बड़ी धनराशि प्राप्त होने के साथ 22 करोड़ का 15000 चेक वापस हुए हैं।हालांकि अभी ऑडिट का कार्य अभी पूरा नहीं हो सका है। फिलहाल निधि समर्पण अभियान की मानिटरिंग कर रहे अखिल भारतीय वृत्त टीम की गणना की एक टेंटिव रिपोर्ट सामने आई है।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 1 माह तक चले निधि समर्पण अभियान में मिले धनराशि को लेकर ऑडिट का कार्य किया जा रहा है। वर्तमान में मिली रिपोर्ट के आधार पर देश के 6.73 लाख गांव के 20.67 परिवार से 38185 कार्यकर्ता द्वारा कूपन व रसीद से 2449.88 करोड़ प्राप्त हुए है। जो कि ₹10 के कूपन से 30.99करोड़, ₹100 के कूपन से 372.48 करोड़, ₹1000 के कूपन से 225.46 करोड़ और रसीद से 1625.04 करोड़ है। वहीं डीजिटल के माध्यम से 2753.97 करोड़ जमा हुए हैं। डिजिटल के माध्यम से 2575.29 करोड़ की राशि जमा हुए है। और बैक में जमा 2674.65 करोड़ है वहीं बैंक के खातों में जमा होने के बाद सिस्टम से मेल न खाने व विवरण उपलब्ध ना होने को लेकर 150.84 करोड़ जमा हुुुए है।

साथ ही रिपोर्ट में कहा गया है कि 1 करोड़ से अधिक की धनराशि को समर्पित करने वाले राम भक्तों की कुल संख्या 74 रही है। इसी तरह से 50 लाख से एक करोड़ समर्पित करने वाले 127 राम भक्त सामने आए हैं तो वहीं 25 से 50 लाख का समर्पण 123 राम भक्तों ने किया। 10 से 25 लाख का समर्पण 950 भक्त, 5 से 10 लाख का समर्पण 1428 और एक से पांच लाख की निधि 31653 राम भक्तों ने समर्पित की है। वहीं निधि समर्पण अभियान के तहत मिले चेक को लेकर किए जा रहे ऑडिट में मिली जानकारी के मुताबिक 20 से 22 करोड़ का 15000 चेक वापस किए गए हैं जिसमें बताया गया है। हस्ताक्षर मैच ना खाने, खाता में गड़बड़ियों अन्य कारणों से चेेको का भुगतान नहीं किया जा सका है।

Ram Mandir
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned