scriptYouth arrested for cheating in the name of Ram Mandir Trust | 2 वर्ष के बाद राम मंदिर ट्रस्ट के नाम से धोखाधड़ी करने वाला युवक गिरफ्तार, जाने पूरा मामला | Patrika News

2 वर्ष के बाद राम मंदिर ट्रस्ट के नाम से धोखाधड़ी करने वाला युवक गिरफ्तार, जाने पूरा मामला

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के द्वारा अप्रैल 2020 में दर्ज कराया गया था मुकदमा, 2 वर्ष के बाद साइबर क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

अयोध्या

Published: May 01, 2022 09:28:22 pm

अयोध्या. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के नाम से फर्जी वेबसाइट बनाकर धोखाधड़ी करने वाला युवक को साइबर क्राइम क्राइम ब्रांच की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। जिसकी पहचान दिल्ली के नजफगढ़ निवासी अविनाश बहुखंडी पुत्र दिनेश चंद्र बहुखंडी के रूप में हुई है।
2 वर्ष के बाद राम मंदिर ट्रस्ट के नाम से धोखाधड़ी करने वाला युवक गिरफ्तार, जाने पूरा मामला
2 वर्ष के बाद राम मंदिर ट्रस्ट के नाम से धोखाधड़ी करने वाला युवक गिरफ्तार, जाने पूरा मामला
ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने राम जन्मभूमि थाने में की थी शिकायत

अयोध्या में भगवान के भव्य मंदिर निर्माण को लेकर 5 फरवरी 2020 में केंद्र सरकार के द्वारा श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के गठन किया गया था। उक्त ट्रस्ट के पंजीकरण के पश्चात भारत सरकार द्वारा अयोध्या में अधिग्रहित की गई। संपूर्ण 70 एकड़ भूमि व संबंधित चल और अचल संपत्ति को भी ट्रस्ट को हस्तांतरित कर दिया गया था। जिसके बाद मंदिर निर्माण की प्रक्रिया के लिए देशभर में चंदा जुटाए जाने की प्रक्रिया शुरू ही हुई थी कि राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के नाम से दूसरा फर्जी आईडी तैयार कर बड़ी संख्या में रकम को वसूले जाने का मामला सामने आया था। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने इस मामले की जानकारी मिलते ही अयोध्या के राम जन्मभूमि थाना में मुकदमा दर्ज करा दिया था।
धोखाधड़ी करने वाला युवक गिरफ्तार

अयोध्या के राम जन्मभूमि थाना में अप्रैल 2020 में इस मामले को लेकर मुकदमा दर्ज कराया गया।अयोध्या पुलिस के द्वारा 22 माह तक लगातार चले जांच के बाद फरवरी 2022 में यह मामला साइबर क्राइम के हाथों सौंप दिया गया और जो कि 2 माह में ही साइबर क्राइम की टीम ने धोखाधड़ी करने वाले युवक को गिरफ्तार कर लिया है। जिसके पास से सिम लगा हुआ एक एंड्राइड मोबाइल बरामद हुआ है इस घटना के खुलासे में साइबर क्राइम के प्रभारी निरीक्षक चंद्रभान यादव, उपनिरीक्षक अमित शंकर यादव, कांस्टेबल रवि यादव और आरक्षी पवन कुमार त्रिपाठी को बड़ी सफलता रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

QUAD Summit: अमरीकी राष्ट्रपति ने उठाया रूस-यूक्रेन युद्ध का मुद्धा, मोदी बोले- कम समय में प्रभावी हुआ क्वाड, लोकतांत्रिक शक्तियों को मिल रही ऊर्जाWhat is IPEF : चीन केंद्रित सप्लाई चैन का विकल्प बनेंगे भारत, अमरीका समेत 13 देशWeather Update: दिल्ली में आज भी बारिश के आसार, इन राज्यों में आंधी-तूफान की संभावनाहरियाणा के जींद में सड़क हादसा: ट्रक और पिकअप की टक्‍कर में 6 की मौत, 17 घायलटाइम मैगजीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट, जेलेंस्की, पुतिन के साथ 3 भारतीय भी शामिलHaj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाआ गया प्लास्टिक कचरे का सफाया करने वाला नया एंजाइमWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हराया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.