आजमगढ़ में सीने पर बंदूक सटाकर मांगी 10 लाख रुपये की रंगदारी

आजमगढ़ में बंदूक तानकर 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गयी, पुलिस ने मामले को बताया संदिग्ध।

आजमगढ़. तहबरपुर थाने में रविवार को सीने पर बंदूक सटा कर 10 लाख की रंगदारी मांगने के मामले में नामजद किए गए पिता पुत्र सहित चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है घटना की जांच में जुटी पुलिस ने मामले को संदिग्ध करार दिया है।


शहर कोतवाली क्षेत्र के शेखपुरा ग्राम निवासी रामसुंदर चौहान का आरोप है कि गत 15 सितंबर की दोपहर वह तहबरपुर क्षेत्र में गया था उसी दौरान सुखी पुर गांव स्थित एक विद्यालय के पास मुबारकपुर कस्बे के रहने वाले चार लोगों ने उसे रोका और सीने पर बंदूक सटाकर 10 लाख रुपए रंगदारी टैक्स की मांग की। रकम न देने पर असलहा धारियों ने पीड़ित को जान से मारने की धमकी दी इस मामले में तहबरपुर थाने में पीड़ित की तहरीर पर मुबारकपुर कस्बे के पूरा रानी मोहल्ला निवासी रामवृक्ष प्रभुनाथ हरीशचन्द्र व प्रभुनाथ के पुत्र के खिलाफ धारा 386 के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है।

 

आटो में टक्कर मार बेकाबू हुई बस पेड़ से टकराई, कई गंभीर रूप से घायल
रानी की सराय थाना क्षेत्र के शाहखजुरा गांव स्थित पुल के पास निजी बस और आटोरिक्शा की टक्कर में कई यात्री घायल हो गए। दुर्घटना के बाद भाग रही बस की चपेट में आ जाने से ऊंची गोदाम बाजार में एक राहगीर भी जख्मी हो गया। स्थानीय लोगों की मदद से बस चालक को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। घायलों को इलाज के लिए विभिन्न अस्पतालों में ले जाया गया है।


दशहरा पर्व के अवसर पर रानी की सराय कस्बे में लगने वाले मेले के कारण वाहनों के लिए किए गए मार्ग परिवर्तन के चलते वाहनों को वाया मेंहनगर जिला मुख्यालय की ओर रवाना किया जा रहा है। जिसके चलते उस मार्ग पर वाहनों की संख्या बढ़ गई है। सोमवार को दिन में वाराणसी से आ रही अनुबंधित बस रानी की सराय क्षेत्र अंतर्गत शाहखजुरा के पास यात्रियों से भरे आटोरिक्शा में टक्कर मार दी, जिससे आटो पलट गया। इस दुर्घटना में आटो सवार आधा दर्जन यात्री घायल हो गए।

 

दुर्घटना के बाद अनियंत्रित हुई बस सड़क किनारे स्थित पेड़ से टकरा गई। इसके चलते बस में सवार कुछ यात्री भी जख्मी हो गए। मौका पाकर चालक वहां से वाहन सहित भाग निकला। रास्ते में ऊंजीगोदाम बाजार में तेजरफ्तार बस की चपेट में आकर एक राहगीर भी घायल हो गया। इस दुर्घटना के बाद बाजार के लोगों ने बस को घेर लिया और चालक की पिटाई कर उसे पुलिस के हवाले कर दिया। घायलों को विभिन्न अस्पतालों में इलाज के लिए भेजा गया है, जिसके चलते उनके नाम व पता स्पष्ट नहीं हो सके हैं। इस हादसे में घायलों की संख्या लगभग दर्जनभर बताई जा रही है।

 

संदिग्ध हाल में झुलसकर विवाहिता की मौत, हत्या का आरोप
जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के ईसरपार गावं में रविवार की दोपहर संदिग्ध परिस्थितियों में झुलसी 24 वर्षीय विवाहिता ने सोमवार की सुबह जिला अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। इस मामले में मृतका की मां ने दामाद पर बेटी को जलाकर मार डालने का आरोप लगाया है।
क्षेत्र के ओलमापुर रकबा ग्राम निवासी स्व. प्रभुनाथ की पुत्री सीमा (24) की शादी गत वर्ष 2010 में स्थानीय ईसरपार निवासी जयप्रकाश के साथ हुई थी।

 

समय के साथ सीमा ने तीन बच्चों (दो पुत्र व एक पुत्री) को जन्म दिया। इन दिनों ससुराल में रह रही सीमा रविवार की दोपहर संदिग्ध परिस्थितियों में झुलस गई। इलाज के लिए उसे स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। चिकित्सक द्वारा झुलसी विवाहिता को रेफर कर दिए जाने पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। उपचाराधीन सीमा ने सोमवार की सुबह दम तोड़ दिया। घटना की जानकारी पाकर पोस्टमार्टम हाउस पहुंची मृतका की मां शारदा देवी ने दामाद पर नशे की हालत में पुत्री को जलाकर मार डालने का आरोप लगाया है। घटना के संबंध में सोमवार की देरशाम तक संबंधित थाने में कोई तहरीर नहीं दी गई थी।

by RAN VIJAY SINGH

 

 

रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned