प्रशिक्षण से गायब रहे 15 कर्मचारी, डीएम ने दी एफआईआर की चेतावनी

प्रशिक्षण से गायब रहे 15 कर्मचारी, डीएम ने दी एफआईआर की चेतावनी

Ashish Kumar Shukla | Publish: Apr, 09 2019 07:54:04 PM (IST) Azamgarh, Azamgarh, Uttar Pradesh, India

प्रशिक्षण के लिए दिया है बुधवार शाम तक का समय

आजमगढ़. लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 को सकुशल सम्पन्न कराने हेतु मतदान कार्मिकों के प्रथम प्रशिक्षण में मंगलवार को वीवीपैट, ईवीएम से संबंधित जानकारी दी गयी। डीएवी इण्टर कालेज में चल रहे प्रशिक्षण में जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी ने कर्मचारियों को चुनाव कार्य गंभीरता से लेने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने प्रशिक्षण के प्रत्येक कमरों का अवलोकन किया गया। प्रत्येक कमरों में मतदान कार्मिकों को मास्टर ट्रेनरों द्वारा ईवीएम मशीन तथा वीवीपैट के संचालन तथा उसके तकनीकी ज्ञान के बारे में जानकारी दी गयी। जिलाधिकारी ने मतदान कार्मिकों को मतदान के दिन मतदान से पूर्व ईवीएम मशीन के द्वारा मॉकपोल करने की प्रक्रिया को विस्तार से बताया। उन्होने बताया कि मॉकपोल के द्वारा 50 वोट डाले जायेंगे, उसके बाद ही मतदान की प्रक्रिया प्रारम्भ होगी। उन्होने मतदान कार्मिकों को ईवीएम मशीन तथा वीवीपैट के संचालन तथा उसके तकनीकी पहलुओं के बारे में विस्तार से बताया।

जिलाधिकारी ने मतदान कार्मिकों को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रशिक्षण पूरे मनोयोग के साथ करें, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही न करें। प्रशिक्षण का प्रथम पाली 8 बजे से 1 बजे तक में 1021 तथा द्वितीय पाली 2 बजे से 5 बजे तक 1021, इस प्रकार कुल 2042 मतदान कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया गया। मतदान कार्मिकों के प्रशिक्षण में पीठासीन अधिकारी तथा प्रथम मतदान अधिकारी को प्रशिक्षण दिया गया।

प्रथम पाली में 14 तथा द्वितीय पाली में 17 मतदान कार्मिक अनुपस्थित पाये गये। इस प्रकार आज प्रशिक्षण में कुल 31 मतदान कार्मिक अनुपस्थित रहे। जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान जो कर्मचारी अनुपस्थित हैं, वे 10 अप्रैल 2019 को प्रथम पाली के प्रशिक्षण में उपस्थित रहकर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं। जो मतदान कार्मिक प्रथम पाली में प्रशिक्षण प्राप्त नही करता है, तो शाम 5 बजे के बाद अनुपस्थित पाये गये मतदान कार्मिकों पर एफआईआर दर्ज करा दी जायेगी। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी डीएस उपाध्याय, मुख्य राजस्व अधिकारी हरी शंकर, परियोजना निदेशक अभिमन्यु सिंह, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य निकष सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned