आजमगढ़: एक ही परिवार के तीन प्रत्याशियों को जनता ने दिया मौका

आजमगढ़: एक ही परिवार के तीन प्रत्याशियों को जनता ने दिया मौका

Sujeet Verma | Publish: Nov, 03 2015 10:19:00 AM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

तीनों प्रत्याशियों की जीत के बारे में पता चला तो परिवार सुर्खियों में आ गया। तीनों परिवार को सदस्यों को एक साथ ही माला पहनाकर घर आए।

आजमगढ़. आजमगढ़ जिले के बरहतिर जगदीशपुर जिला पंचायत क्षेत्र के अंतर्गत क्षेत्र पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रहे एक ही परिवार के तीन सदस्यों की जीत जिले की जनता में कौतूहल का विषय बना हुआ है। जनता ने एक परिवार के तीनों प्रत्याशियों को बहुमत देकर काम करने का मौका दिया है।

बताते चलें कि बरहतिर जगदीशपुर क्षेत्र पंचायत की एक सीट पर सिकंदर कनौजिया तो दूसरी सीट पर उसकी पत्नी रिंकू देवी चुनाव लड़ रही थी। पड़ोस की चकसहदरिया रामपुर क्षेत्र पंचायत से सिकंदर ने अपने भाई सुधीर को चुनाव मैदान में उतारा था। इसमें तीनों ने जीत हासिल की है। जब 1 नवंबर देर रात तीनों प्रत्याशियों की जीत के बारे में पता चला तो परिवार सुर्खियों में आ गया। तीनों परिवार को सदस्यों को एक साथ ही माला पहनाकर घर आए।

सगड़ी विधायक की बहू को मिली हार
जिले के सगड़ी विधानसभा क्षेत्र से विधायक अभयनरायण पटेल की बहू जिला पंचायत में बुरी तरह पराजित हुई। इससे राजनीतिक महकमों में हलचल मची हुई है। लोगों में चर्चा है कि आने वाले विधानसभा चुनाव में यह उनके लिए नुकसानदायक हो सकता है। इस हार की खबर सपा के दिग्गजों तक पहुंच गई है।

जिला पंचायत की चांदपट्टी सीट से चुनाव लड़ रहीं सगड़ी क्षेत्र के सपा विधायक अभय नारायण पटेल की पुत्रवधू को जनता ने नकारते हुए उन्हें आइना दिखाने का कार्य किया। विधायक की पुत्रवधू रीनीकांत पटेल चांदपट्टी जिला पंचायत सीट से चुनाव लड़ रहीं थीं। वह इस सीट पर चौथे नंबर पर रही।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned