लोकतंत्र को राजतंत्र में बदलना चाहती है केंद्र की मोदी सरकार: राजेश यादव

-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (संशोधन) अधिनियम-2021 के विरोध में सड़क पर उतरे आप कार्यकर्ता

-सरकार के खिलाफ जमकर की नारेबाजी, जिलाधिकारी को राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (संशोधन) अधिनियम-2021 के विरोध में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश यादव के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने मोदी सरकार पर लोकतंत्र को राजतंत्र में बदलने की साजिश करने का आरोप लगाया। जिलाधिकारी को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा।

प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश यादव ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (संशोधन) अधिनियम-2021 बिल लाकर दिल्ली में प्रचंड बहुमत से चुनी हुई सरकार के सारे अधिकार छीनकर नौकरशाहों के हवाले करना चाहती है, जो लोकतंत्र की हत्या है। आम आदमी पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता से बौखलाहट में केंद्र सरकार षड्यंत्र कर चोर दरवाजें से संविधान पीठ के फैसले को पलटने की साजिश कर रही है, जो किसी भी सूरत में जनता होने नही देगी।

उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले के खिलाफ संसद से लेकर सड़क तक तेज संघर्ष किया जायेगा। केंद्र सरकार लोकतंत्र में राजतंत्र लाने का रास्ता बनाने की फिराक में है, जो किसी सूरत में होने नहीं दिया जायेगा। जिला प्रभारी संध्या राजभर ने कहा कि केंद्र सरकार जनता के हित में काम करने वाली सरकार को बर्दाश्त नहीं कर पा रही है और उसे षड्यंत्र करते अधिकारहीन कर देना चाहती है।

इस अवसर पर मुख्य रूप से जिलाध्यक्ष रविन्द्र यादव, जयप्रकाश सिंह, उमेश सिंह, इसरार अहमद, तेजबहादुर यादव, अशोक यादव, निशान मेहदी, डा सर्फुद्दीन, डा रामदुलार, गोरख यादव, गौरव यादव, प्रियंका गोंड, अरविन्द्र यादव, धर्मेन्द्र कुमार, डा वीरेन्द्र यादव, चन्द्रभूषण मौर्य, नुरूज्जमा, मनोहर लाल, अरविन्द कुमार, राजेश कुमार सिंह, रामभवन प्रजापति, पंकज भारती, आनंद यादव, रामरूप यादव, मृत्युजंय राय सहित आदि उपस्थित थे।

BY Ran vijay singh

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned