स्कूल की मान्यता के लिये एबीएसए पर 40 हजार मांगने का आरोप, ऑडियो वायरल

एबीएसए की सफाई, ऑडियो में प्रबंधक ही सब बोल रहा मैने नहीं की कोई डिमांड।

आजमगढ़. योगी सरकार भ्रष्टाचार से मुक्ति का दावा कर रही है लेकिन अखिलेश के गढ़ में सीएम का यह दावा पूरी तरह फेल साबित हो रहा है। अभी तक यहां लेखपालों के घूस मांगने का कई ममाला तो सामने आया ही था अब मान्यता के नाम पर एबीएसए का घूस मांगने की आडियो वायरल हुई है। जिसमें प्रबंधक एबीएसए पर पूर्व में 40 हजार लेने के बाद भी मान्यता की फाइल आगे न बढ़ाने का आरोप लगा रहा है। खुद एबीएसए कह रहे हैं कि वे किसी का रूपया नहीं भूले बस उसी का भूल गये।

 

मामला अहरौला ब्लाक के ओरिल बाजार का है। यहां श्री बरन शिक्षा संस्थान के नाम से विद्यालय है। विद्यालय के प्रबंधक रामप्रीत मौर्य का आरोप है कि एबीएसए अहरौला मान्यता के नाम पर उससे अब तक चालीस हजार रूपये ले चुके है और एक लाख रूपये की और मांग कर रहे हैं। आडियो में इसी बात को लेकर एबीएसए और प्रबंधक के बीच झगड़ा हो रहा है। प्रबंधक उन्हें कब कब पैसा दिया है डेट वाइज बता रहा है लेकिन एबीएसए सिर्फ 10 रूपये लेने की बात स्वीकार की है। बाकि धनराशि प्राप्त करने से वे मुकर रहे है।

 

शुरूआती बातचीत में उन्होंने उच्चधिकारियों को भी हिस्सा देने की बात कही है और एक लाख की मांग की है लेकिन प्रबंधक उन्हें 40 हजार घटाकर साठ हजार देने की बात कह रहा है। आडियो में विवाद इतना बढ़ गया है कि वहां मौजूद लोगों को भी हस्तक्षेप करना पड़ता है। वहीं प्रबंधक एबीएसए को लगतार शिकायत की धमकी दे रहा है। यह आडियो चर्चा का विषय बनी हुई है। वैसे इस मामले में एबीएसए अशोक कुमार का कहना है कि आडियो में सब प्रबंधक ही तो बोल रहा है उनका इस मामले से कुछ लेना नहीं है।

By Ran Vijay Singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned