आजमगढ़ के वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डा. रुद्र प्रताप सिंह फेलो पुरस्कार से सम्मानित, किये हैं ये काम

आजमगढ़ के वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डा. रुद्र प्रताप सिंह फेलो पुरस्कार से सम्मानित, किये हैं ये काम
डॉ. रूद्र प्रताप सिंह

Mohd Rafatuddin Faridi | Updated: 03 Dec 2017, 11:17:55 PM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

बिहार में आयोजित तीन दिवसीय राष्ट्रीय समेमिनार में किया गया सम्मानित

आजमगढ़. भारतीय प्रसार शिक्षा संस्था (आईएसईई), भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान नई दिल्ली एवं प्रसार शिक्षा विभाग बिहार कृषि विश्वविद्यालय, साबौर, भागलपुर के संयुक्त तत्वावधान में कृषकों की आय एवं प्रक्षेत्र उत्पादन दोगुना किये जाने हेतु एक तीन दिवसीय राष्ट्रीय सेमीनार का आयोजन बीते 28, 29 व 30 नवम्बर को किया गया। सेमीनार का उद्घाटन बिहार सरकार के कृषि उत्पादन आयुक्त सुनील कुमार सिंह ने किया।


सेमीनार में देश के विभिन्न कृषि विश्वविद्यालयों एवं भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के विभिन्न संस्थानों से लमभग 300 से अधिक कृषि वैज्ञानिकों, शोध छात्रों एवं प्रगतिशील कृषकों ने प्रतिभाग किया जिसमें विभिन्न शोध पत्र प्रस्तुत किए गये तथा परिणामों के आधार पर कृषकों की आय बढ़ाने हेतु मंथन किया गया। कृषि प्रसार के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने एवं कृषकों की आय वृद्धि में सतत् प्रयासरत् नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय, फैजाबाद के अन्तर्गत कृषि विज्ञान केन्द्र आज़मगढ़ में वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक के पद पर कार्यरत डा. रुद्र प्रताप सिंह को “आईएसईई फेलो पुरस्कार” से सम्मानित किया गया।

 

डा. सिंह को यह प्रतिष्ठित पुरस्कार बिहार कृषि विश्वविद्यालय, साबौर, भागलपुर के पूर्व कुलपति प्रो. गोपाल जी त्रिवेदी; विधान चन्द्र कृषि विश्वविद्यालय, पश्चिम बंगाल के पूर्व कुलपति प्रो. एम.एम. अधिकारी एवं आईएसईई के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. बलदेव सिंह ने प्रदान किया। डा. सिंह कृषि मंत्रालय, भारत सरकार में संयुक्त निदेशक के पद पर भी कार्य कर चुके हैं तथा पूर्व में भी अपने उत्कृष्ट कार्याें हेतु विभिन्न सम्मानों से सम्मानित हो चुके हैं। डा. सिंह की इस उपलब्धि से जनपदवासियों में हर्ष व्याप्त है।

 

संदिग्ध हाल में विवाहिता व किशोरी झुलसीं
बिलरियागंज थाना क्षेत्र में रविवार को संदिग्ध परिस्थितियों में झुलसी विवाहिता व किशोरी को गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। उपचाराधीन दोनों की हालत नाजुक बताई गई है।


बिलरियागंज थाना क्षेत्र के सेठारी ग्राम निवासी संतोष की 21 वर्षीय पत्नी मुनिला रविवार की सुबह अबूझ हाल में झुलस गई। इलाज के लिए उसे स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। चिकित्सक द्वारा रेफर कर दिए जाने पर परिजनों ने उसे दिन में करीब दस बजे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। विवाहिता किन परिस्थितियों में झुलसी, यह बताने से परिजनों ने परहेज किया। इसी थाना क्षेत्र के इस्माइलपुर गोरिया निवासी राजेश श्रीवास्तव की 14 वर्षीय पुत्री ज्योति संदिग्ध परिस्थितियों में झुलस गई। रविवार की दोपहर परिजनों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल प्रशासन के अनुसार दोनों की हालत गंभीर बनी हुई है।

by Ran Vijay Singh

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned