आजमगढ़ में अखिलेश यादव का मोदी-योगी पर बड़ा हमला, कहा चौकीदार के साथ ठोकीदार का भी जाना तय है

आजमगढ़ में अखिलेश यादव का मोदी-योगी पर बड़ा हमला, कहा चौकीदार के साथ ठोकीदार का भी जाना तय है
अखिेलश यादव

Mohd Rafatuddin Faridi | Updated: 18 Apr 2019, 02:53:22 PM (IST) Azamgarh, Azamgarh, Uttar Pradesh, India

आजमगढ़ में अखिलेश यादव ने किया नामांकन, सतीश चन्द्र मिश्रा बने प्रस्तावक।

आजमगढ़. अखिलेश यादव ने आजमगढ़ लोकसभा सीट पर गुरुवार को अपना नामांकन कर दिया। उनके प्रस्तावकों में मायावती के दूत और कद्दावर बसपा नेता सतीश चन्द्र मिश्रा, सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव, पूर्व मंत्री बलराम यादव शामिल रहे। अखिलेश यादव का नामांकन कराने के लिये बीजेपी से निकाले जाने के बाद सपा ज्वाइन कर चुके आईपी सिंह भी नामांकन के दौरान कलेक्ट्रेट में नजर आए।

 

अखिलेश यादव के संबोधन के पहले अबु आसिम आजमी ने सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आजमगढ़ वालों की यह खुश किस्मती है कि अखिलेश यादव ने आजमगढ़ सीट को चुना। आह्वान किया कि आजमगढ़ की सीट पर साइकिल और लालगंज की सीट पर हाथी को जिताना होगा।

 

इस दौरान कई पार्टी के नेताओं ने समाजवादी पार्टी का दामन थामा। इसमें जौनपुर के कांग्रेस नेता जगदीश राय समाजवादी पार्टी में शामिल हुए। अजमतगढ़ टाउन एरिया जीयनपुर के चेयरमैन व निषाद पार्टी के आजमगढ़ की पूरी इकाई सपा में शामिल हुई। अविनाश यादव शिब्ली के छात्र नेता, रणजीत राय छात्र नेता भी इसमें शामिल हुए।

 

ये महागठबंधन महामिलावट नहीं। अगर बीजेपी ने 38 दलों से गठबंधन किया है तो वो क्या है।

ये चुनाव संविधान बचाने का है। हमें और आपको बचाने वाला चुनाव है।

जिनसे हमारा मुकाबला है वो कब न जाने कौन सा झूठ बोल दें, कौन सी साजिश कर दें या कोई नई बात बोल दें कोई भरोसा नहीं।

बीजेपी के लोग कहते हैं नया देश बनाना है। इसे नया देश बनाने का चुनाव बताते हैं।

हम कहते हैं नया देश तब बनेगा जब नया प्रधानमंत्री बनेगा, इसलिये ये नया प्रधानमंत्री बनाने का चुनाव है।

नया प्रधानमंत्री ही नया देश बना सकता है।

हम लोगों को ऐसे सपने दिखाए जो कभी पूरे नहीं हो सकते थे।

आजमगढ़ के लोगों बताओ अच्छे दिन वोल कहां हैं। क्या अब वो अच्छे दिन का नाम ले रहे हैं क्या।

अच्छे दिन का पता नहीं, नौकरी का वादा किया था याद कीजिये नौजवानों को हर साल दो करोड़ का वादा था।

नौकरी में चोरी हो गयी, रोजगार में चोरी हो गयी, किसानों से आय दोगुनी करने लाभकारी मुल्य डेढ़गुना करने का वादा किया था।

गरीब किसानों को यूरिया और खाद की बोरी में से पांच किलो चोरी हो गयी।

हमें बताया कि रुपया जमा कर दो भ्रष्टाचार खत्म हो जाएगा।

पुराना रुपया जमा होने पर काला धन आने और भ्रष्टाचार खत्म होने का दावा किया था।

जवाब दें कितना काला धन आया और भ्रष्टाचार कितना खत्म हुआ।

मैं ने कहा था कि लेनदेन काला सफेद होता है।

बैंक में जो रुपये जमा हुए वो बैंक से निकालकर बड़े बड़े लोग लेकर चले गए।

हम आप चार पांच नाम जानते हैं लेकिन 36 हजार से ज्यादा उद्योगपति हमारा पैसा लेकर चले गए।

चप्पल पहनने वालों को हवाई जहाज में बैठने का सपना दिखाया था, लेकिन हवाई जहाज उड़ाने वाली कंपनी हवाई जहाज छोड़कर जा रही है।

पहली सरकार है जो अपने वादे के खिलाफ काम करती है।

वादा किया होगा नौकरी का तो नौकरी छीन ली, किसान की आय दोगुनी करने का वादा कर बोरी में खाद चोरी कर ली।

अप क्या नारा लगा रहे हैं मैं जानता हूं। आप बताओ चौकीदार की चौकी छिनोगे या नहीं।

यूपी में हमारे बाबा ठोगीदार भी हैं।

ये चुनाव चौकीदार और ठोकीदार को हटाने का भी है।

हमारे ठोगीदार बाबा मुख्यमंत्री ने कहा कि ठोको नीति से काम करो।

पुलिस नहीं समझ सकी और कभी जनता को ठोका और जनता ने पुलिस को ठोक दिया।

सांसद विधायक समझे कि ठोको से काम होना है और सांसद जी ने विधायक को 21 जूतों की सलामी दी।

लोग कहते हैं कि 21 जूते नहीं थे वो 12 थे। हम कहते हैं कि रोका न गया होता तो 21 जूतों की सलामी देने जा रहे थे।

यहां के लोगों ने समाजवादी विरासत को आगे बढ़ाया है।

जब कभी आजमगढ़ में कुछ देने की बात आयी, समाजवादियों ने अपने हाथ कभी पीछे नहीं खींचे, जितना मांगा उतना दिया।

देश की सबसे अच्छी सड़क बना रहा था तो नेता जी ने कहा कि 36 नहीं 21 महीने में सड़क बनाओ। हमने 21 महीने में बनाकर तैयार कर दी।

उद्धाटन किया तो देश के सबसे बेहतरीन लड़ाकू विमान को उतारकर दिखा दिया। वो विमान सुखोई जिसे नेता जी ने खरीदा उसे और हक्.यूलिस भी उतारा था।

तभी मैंने तय किया था कि जब दिल्ली से चलकर लखनऊ और लखनऊ से चलकर सड़क सुल्तानपुर, आजमगढ़ को छूते हुए बलिया और गाजीपुर जुड़े तभी सही विकास होगा।

हमने समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस दी। शिलान्यास हुआ था तब विधानसभा के सामने पत्थर रखकर शिलान्यास किया था।

हमने सड़क के लिये जमीन देने वाले किसानों के लिये खजाना खोल दिया था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned