एम्बुलेंस हड़ताल पर गरमाई राजनीति, सपा के बाद अब कांग्रेस ने किया समर्थन

एम्बुलेंस कर्मचारियों द्वारा की जा रही हड़ताल पर भी राजनीति शुरू हो गयी है। सरकार पर कर्मचारियों के शोषण का आरोप लगाते हुए पूरा विपक्ष एकजुट हो गया है। पहले सपा फिर कांग्रेस ने एम्बुलेंस चालकों के आंदोलन का समर्थन किया है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. हड़ताल कर रहे एम्बुुलेंस कर्मचारियोें के खिलाफ कार्रवाई का मामला अब तूल पकड़ लिया है। एक तरफ कर्मचारी अस्पतालों पर विरोध प्रदर्शन करने में जुटे तो दूूसरी तरफ विपक्ष इसे बड़ा मुद्दा बनाने में जुटा है। पहले एम्बुलेंस कर्मचारियों की हड़ताल को सपा ने समर्थन दिया और अब कांग्रेस उनके साथ खड़ी हो गयी है। कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार सिंह ने महिला अस्पताल पहुंचकर आंदोलनरत एंबुलेंस ड्राइवरों एवं ईएमटी से मुलाकात कर उनकी हर लड़ाई में साथ देने का आश्वासन दिया।

बता दें कि एम्बुलेंस कर्मचारियों की हड़ताल रविवार की आधी रात के बाद से जारी है। इसका स्वास्थ्य व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। बुधवार को समाजवादी पार्टी ने हड़ताल के समर्थन में जिला प्रशासन को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंप कार्रवाई की निंदा की थी। अब कांग्रेस उनके साथ खड़ी हो गयी है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा था कोरोनाकाल में एंबुलेंस कर्मियों पर फूल बरसाने की बात करने वाली सरकार अब उनके ऊपर लठ्ठ बरसाने की बात कर रही है। सरकार ने एस्मा लगा कर 500 से ऊपर एंबुलेंस कर्मियों को बर्खास्त कर दिया है उनके समक्ष रोजी रोटी का संकट उत्पन्न हो गया है।

प्रियंका के ट्वीट के बाद कांग्रेसी सक्रिय हो गये और जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार सिंह के नेतृत्व में महिला अस्पताल पहुंचकर एम्बुलेंस कर्मचारियों के आंदोलन को समर्थन दिया। जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार सिंह ने कहा एंबुलेंस कर्मी कोरोना काल जैसी महामारी के समय अपनी जान की बाजी लगाकर लोगों को अस्पताल पहुंचा कर उनके जीवन रक्षा का कार्य किया था। उन्हें आज बर्खास्त कर दिया गया है। उनके समक्ष रोजी रोटी का संकट उत्पन्न हो गया है। आंदोलनकारी कर्मियो के ऊपर फर्जी मुकदमे दर्ज कर उन्हे डरा कर उनके आंदोलनो को कुचला जा रहा है। सारी आउटसोर्सिंग कंपनियां पहले लाखों रुपए लेकर नियुक्ति करती हैं कुछ दिन बाद कोई ना कोई बहाना ढूंढ कर उन्हें नौकरी से बर्खास्त कर पुनः लाखों रुपये लेकर नई नियुक्तियों का खेल करती हैं।

उन्होंने कहा कि इस सरकार में लूट मची हुयी है। ऐसे मामलों में स्वास्थ्य मंत्री से लेकर स्वास्थ्य सचिव तक सबकी मिली भगत होती है। कांग्रेस पार्टी एम्बुलेंस कर्मियों के समर्थन में पूरी तरह उनके साथ खड़ी है। हम सरकार से मांग करते हैं कि सरकार एम्बुलेंस कर्मियों की सारी मांगे शीघ्र पूरी करें और उन पर लगाए गये मुकदमो को तत्काल वापस ले। अगर ऐसा नहीं होता है तो एम्बुलेेंस कर्मचारियों के समर्थन में कांग्रेस बड़ा आंदोलन खड़ा करेगी।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned