आजमगढ़ में कोटेदारों की दबंगई जारी, ग्रामीण आये दिन कर रहे प्रदर्शन

आजमगढ़ में कोटेदारों की दबंगई जारी, ग्रामीण आये दिन कर रहे प्रदर्शन
villagers protest

ग्रामीणों की शिकायतों का कोई अधिकारी संज्ञान नही ले रहा है।

आजमगढ। खाद्य सुरक्षा कानून लागू होने के बाद भी आजमगढ जिले खाद्य वितरण प्रणाली में कोई सुधार होता नहीं दिख रहा है। जिले के विभिन्न कोनों से प्रत्येक दिन खाद्यान्न में वितरण में अनियमितता और कोटेदारो की दबंगई को लेकर ग्रामीण लगातार जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन और ज्ञापन दे रहे हैं, लेकिन ग्रामीणों की शिकायतों का कोई अधिकारी  संज्ञान नही ले रहा है।
   

सोमवार को भी जिलाधिकारी कार्यालय पर सगड़ी तहसील के महराजगंज ब्लॉक के भितेहरा गांव के सैकड़ों ग्रामीणों ने  जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रर्दशन कर आरोप लगाया कि ग्राम पंचायत में आवश्यक वस्तु चीनी, चावल, गेहूं, मिट्टी का तेल के वितरण के लिए पतिराम यादव की सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान है। लेकिन ग्राम सभा के कार्ड धारक चीनी, गेहू, तेल नही पाते है। किसी महिने में अगर कोटेदार राशन देता है। तो कार्ड पर पिछले महिनो का रिकार्ड भी चढा़ देता है।


राशन में घटतौली करता है और रेट भी अधिक लेने के साथ रेट सूची भी नही है। राशन न दिये जाने, घटतौली आदि का विरोध करने पर कोटेदार गाली-गलौज और मारपीट पर उतारू हो जाता है। ग्रामीणों का आरोप हैकि एक बार जांच के दौरान सभी बाते सही पाये जाने के बावजूद भी कोटो निरस्त नही किया गया। जिससे कोटेदार का मनोबल बढ़ा हुआ। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से कोटेदार के खिलाफ जांच कर आवश्यक कार्यवाई किये जाने की मांग की है। इस अवसर पर पंकज राय, अभिषेक कुमार, मेवालाल, सोनी देवी, रामबोल यादव, श्रीराम यादव, नितश राय सहित सैकड़ो ग्रामीण उपस्थित थे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned