उधर दुल्हा ले रहा था फेेरे इधर घर पर दबंगों नेे बोल दिया हमला, जाने फिर क्या हुआ

बरदह थाना क्षेत्र में एक युवक की शादी थी बारात जाने के बाद घर पर सिर्फ महिला और रिश्तेदारों को देख दबंगों ने हमला कर दिया। इस दौरान उन्होंने न केवल लोगों को मारापीटा बल्कि जमकर लूटपाट की।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. एक दुल्हा ससुराल में सात फेरे ले रहा था। घर में खुशी का माहौल था। महिलाएं घर में मंगलगीत का रही थी लेकिन यह खुशी दबंगों से देखी नहीं गयी और उन्होंने आधी रात को घर पर हमला कर दिया। इस दौरान दबंगों ने महिलाओं और रिश्तेदारों को मारापीटा तथा घर में रखा आभूषण आदि सामान लूट लिया। घटना की शिकायत करने थाने पहुंचे पीड़ित पक्ष को पुलिस ने बैरंग लौटा दिया। अब पुलिस इस मामले को मारपीट का मामला बताते हुए जांच करने की बात कह रही है।

बरदह थाना क्षेत्र के गोठांव गांव निवासी संतलाल राजभर के पुत्र राहुल की शादी शुक्रवार को थी। शाम को राहुल की बारात देवगांव कोतवाली क्षेत्र के मेहरो कला गांव गई थी। संतलाल ने घर की निगरानी के लिए अपने रिश्तेदार रूपचंद (50) पुत्र बाबूलाल को घर पर छोड़ रखा था। रात में रतजगा की रस्म निभाते हुए परिवार की महिलाएं घर के बाहर मंगल गीत गा रही थीं।

इसी दौरान रात करीब 12.15 बजे गांव के 8-10 लोग लाठी-डंडा व धारदार हथियार लेकर संतलाल के घर पर हमला कर दिये। दबंगों ने वहां मौजूद लोगों बुरी तरह मारपीट कर घायल कर दिया। साथ ही घर में घुसकर 40 हजार नकदी व जेवर आदि लूट ले गए। इस घटना में दूल्हे की मां गुड्डी देवी (45) पत्नी संतलाल, माधुरी देवी (42) पत्नी रामचंद्र गंभीर रूप से घायल हो गयी।

संतलाल आदि को घटना की जानकारी शनिवार को बारात वापस आने के बाद हुई। इसके बाद परिवार को लोग शिकायत लेकर थाने पहुंचे। वहीं पुलिस ने उनका दर्द सुनने के बजाय डांटकर भगा दिया। पीड़ित ने दोबारा थाने जाकर नामजद तहरीर दी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस मामले में थानाध्यक्ष विष्णु मिश्र का कहना है किघटना मारपीट की है, फिर भी मामले की जांच बीट के उपनिरीक्षक से करायी जा रही है। जांच पूरी होने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned