कानपुर की घटना यूपी के इतिहास पर कालिख : हवलदार

सपा ने यूपी के सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

By: Mahendra Pratap

Published: 06 Jul 2020, 06:43 PM IST

आजमगढ़. कानपुर में पुलिस अधिकारियों व पुलिस कर्मियों की हत्या के विरोध में समाजवादी पार्टी ने सोमवार को जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने इस दौरान यूपी की योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए दुर्दान्त अपराधी विकास दूबे के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर जिलाधिकारी को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा।

जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि कानपुर की घटना प्रदेश के इतिहास की पहली घटना है जिसमें पुलिस के 10 अधिकारियों व पुलिस कर्मियों की निर्मम हत्या की गयी। प्रदेश में धर्म व जाति के नाम पर सामान्य घटनाओं में भी गैंगेस्टर व रासुका की कार्यवाई की जा रही है लेकिन 60 मुकदमें वाले अपराधी विकास दूबे की गिरफ्तारी अब तक क्यों नहीं हुई? उसके इस दुस्साहस से पता चलता है कि उसके ऊपर सत्तापक्ष का वरदहस्त था। वहाॅ की पुलिस उसके मर्जी पर चलती है। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही अपराधी बेखौफ होकर बड़ी-बड़ी घटनाओं को अन्जाम दे रहे हैं।

जनपद आजमगढ़ में भाजपा के नेताओं के कहने पर थानाध्यक्ष कार्रवाई करता है। गरीबों को मारा-पीटा जा रहा है लेकिन प्रथम सूचना रिपोर्ट अंकित नहीं होती है। समाजवादी पार्टी राज्यपाल से माॅग करती है कि प्रदेश सरकार को ध्वस्त कानून व्यवस्था को दुरस्त करने, जंगलराज खत्म करने तथा पुलिस की हत्याओं में अभियुक्तों के विरूद्ध कठोर से कठोर कार्यवाई करने का निर्देश सरकार को जारी करें।

इस मौके पर पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव विधायक, विधायक आमलबदी आजमी, डा0संग्राम यादव, नफीस अहमद, पूर्व सांसद बलिहारी बाबू, दरोगा प्रसाद सरोज, पूर्व विधायक श्यामबहादुर सिंह यादव, बेचई सरोज, बृजलाल सोनकर, रामजग राम, अखिलेश यादव, जयराम सिंह पटेल, आशा यादव, प्रेमा यादव, गुड्डी देवी, सपना निषाद, श्रृंगारी गौतम, सुनीता सिंह, श्यामदेव चैहान, रामप्रवेश, शिवसागर, राजाराम सोनकर, सूरज राजभर, संजय प्रजापति, कमलेश कवि, अभिषेक, वेदप्रकाश, सोहराब अहमद, हंसराज चैहान, लालचन्द, अजीत कुमार राव, संतोष, रिंकू, मुलायम आदि उपस्थित थे।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned