Batla House encounter के बाद से फरार यह आतंकी सुरक्षाबलों के लिये बड़ी चुनौती

Batla House encounter के बाद से फरार यह आतंकी सुरक्षाबलों के लिये बड़ी चुनौती
आजमगढ़ आतंकी

Akhilesh Kumar Tripathi | Updated: 13 Aug 2019, 05:59:14 PM (IST) Azamgarh, Azamgarh, Uttar Pradesh, India

सरकार के अलर्ट घोषित करने के बाद पुलिस ने सक्रियता बढ़ा दी है और जगह-जगह जांच शुरू करा दी है।

आजमगढ़. सितंबर 2018 में हुए बटला हाउस इनकाउंटर के बाद से फरार आजमगढ़ जिले के आधा दर्जन से अधिक आतंकी एनआई के लिए चुनौती बने हुए है। तमाम प्रयास के बाद भी उनकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। माना जा रहा है कि फरार आतंकी इंडियन मुजाहिद्दीन, लश्कर-ए-तैयबा, सिमी, जैश-ए-मोहम्मद, अंसार गजावत, अलहिंद कश्मीर सहित अन्य संगठनों से जुड़ गए है। ऐसे में इन्हें देश के लिए बड़ा खतरा माना जा रहा है। खासतौर पर जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35-ए हटाने पर बौखलाए कुछ आतंकी संगठनों के धमाके की धमकी के बाद खतरा और बढ़ गया है। खुफिया इनपुट पर गृह मंत्रालय ने देश में सक्रिय 328 आतंकियों की सूची जारी की है। इनमें आजमगढ़ जिले के छह से अधिक संदिग्धों के भी नाम शामिल हैं। सरकार के अलर्ट घोषित करने के बाद पुलिस ने सक्रियता बढ़ा दी है और जगह-जगह जांच शुरू करा दी है।

 


गृह मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए आतंकियों की सूची में आजमगढ़ के रहने वाले डा. शहनवाज, बड़ा साजिद, मो. खालिद, मिर्जा, एहतेशाम बेग, वाशिक बिल्ला, शादाबा आदि के नाम शामिल हैं। पुलिस के मुताबिक यह सभी संदिग्ध दिल्ली में हुए बाटला एनकाउंटर के बाद से ही फरार हैं। इनकी फरारी के बाद खुफिया एजेंसियों की तरफ से हुई जांच में देश के अन्य शहरों में हुए कई सिलसिलेवार बम धमाकों में भी इनकी संलिप्तता उजागर हुई है। कई प्रदेशों की जांच एजेंसियों की तरफ से इन फरार संदिग्धों पर दस से 15 लाख रुपये तक का इनाम घोषित है। सरायमीर व निजामाबाद थाने की पुलिस द्वारा इन सभी की हिस्ट्रीशीट भी खोली गई है। खुफिया विभाग से ही पता चला कि जिले के फरार ज्यादातर संदिग्ध आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीन सहित अन्य संगठनों से जुड़कर देश विरोधी गतिविधियों में लगे हुए हैं। सरकार के सूची और एलर्ट जारी करने के बाद डीजीपी ने भी प्रदेश में सक्रियता बरतने का निर्देश दिया।

 

 

 

डीआईजी आजमगढ़ परिक्षेत्र मनोज तिवारी का कहना है कि पुरस्कार घोषित इन बदमाशों को पकड़ने के लिए पूरे तंत्र को सक्रिय किया गया है। मंडल के तीनों जिलों में सक्रियता बढ़ा दी गई है। फरार आतंकियों में इंडियन मुजाहिद्दीन, लश्कर-ए-तैयबा, सिमी, जैश-ए-मोहम्मद, अंसार गजावत, अलहिंद कश्मीर सहित अन्य संगठनों के सदस्य हैं। इनकी गिरफ्तारी का प्रयास जारी है। पुलिस और खुफिया एजेंसी लगातार इनपुट एकत्र कर रही है।

 

BY- RANVIJAY SINGH

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned