आजमगढ़ के निजामाबाद में बने दियों से मनेगी अमेरिका समेत कई देशों के भारतवंशियों की दिवाली

  • मांग बढ़ने से निजामाबाद में दिन रात जारी है दिया बनाने का काम
  • मुंबई और गुजरात से पैकिंग कर डिमांड के अनुसार विदेश भेजे जाते हैं दिये

आजमगढ़. काली मिट्टी के बर्तन यानी ब्लैक पॉटरी के लिये पूरी दुनिया में मशहूर आजमगढ़ के निजामाबाद में बने दियों से अमेरिका सहित देशों में भारतवंशियों की दिवाली जगमग होगी। कोरोना महामारी के बाद न सिर्फ भारत बल्कि दुनिया के दूसरे मुल्कों ने भी चाइनीज सामानों से दूरी बनानी शुरू कर दी है। यही वजह है कि दीपावली पर जगमगाने वाली चाइनीज झालरों की जगह इस बार देश ही नहीं विदेशों में भी परंपरागत दियों की मांग बढ़ी है। विदेश में रहने वाले भारतवंशियों की मांग के चलते ब्लैक पाॅटरी के लिये मशहूर आजमगढ़ के छोटे से कस्बे के दियों की डिमांड बढ़ गई है। हालत ये है कि यहां पिछले एक महीने से दिन रात दिये बनाने का काम हो रहा है।

 

निजामाबाद के खूबसूरत दियों की मांग यूं तो हमेशा रहती है, लेकिन दीपावली आने पर इसकी डिमांड और बढ़ जाती है। इन दिनों भी यहां पिछले एक महीने से दिन रात लगातार कारीगर मिट्टी के दिये बनाने में जुटे हैं। अनुमान के मुताबिक अब तक निजामाबाद से 50 लाख से ज्यादा दिये बनाकर दूसरे शहरों में भेजे जा चुके हैं। इनमें करीब 70 फीसदी सप्लाई महाराष्ट्र और गुजरात में हुई है। वहां इन दियों को पैक करके उन्हें अमेरिका समेत देशों में मांग के अनुरूप भेज दिया जाता है।

 

ब्लैक पाॅटरी कला के लिये राज्य पुरस्कार से नवाजे जा चुके महेन्द्र प्रजापति बताते हैं कि यहां के दियों की डिमांड हमेशा रहती है, लेकिन इस बार मांग कुछ अधिक ही है। चाइनीज झालरों के बजाय परंपरागत दियों से दीवाली मनाने का ट्रेंड बढ़ा है। यहां बने चांदनी दिया, डेजी दिया, स्टैंड दिया, थाली दिया, लक्ष्मी गणेश दिया, नारियल दिया, रिंग दिया और पांच पंथी दिया आदि की बाहर ज्यादा डिमांड रहती है। इस बार डिमांड बढ़ने के पीछे कोरोना एक बड़ी वजह है। यहां से दिये लगातार सप्लाई किये जा रहे हैं। संजय यादव की मानें तो पिछले करीब 20 दिनों में 25 से ज्यादा ट्रक दियों की सप्लाई मुंबई समेत महाराष्ट्र के जिलों में हुई है।

 

मोहित प्रजापति बताते हैं कि उन्होंने अब तक अकेले पांच लाख रुपये मूल्य के दिये गुजरात और मुंबई भेजे हैं। वहां इन दियों की पैकिंग होती है और डिमांड के हिसाब से ये अमेरिका और दुबई सहित दूसरे देशों में भेजे जाते हैं। निजामाबाद में 300 कुम्हार परिवार ब्लैक पाॅटरी के कारोबार से जुड़े हैं। उत्तर प्रदेश सरकार भी ब्लैक पाॅटरी को वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोजेक्ट के तहत आगे बढ़ा रही है।

 

निजामाबाद के दियों से रोशन होगी अयोध्या की देव दीपावली

इस बार अयोध्या में मनाई जाने वाली देव दीपावली में भी निजामाबाद के दियों से ही रोशन होगी। 50 एमएल की क्षमता वाले करीब एक लाख दिये तैयार किये जा रहे हैं। जल्द ही इन तैयार दियों को जीएम डीआईसी के जरिये अयोध्या भेजने की तैयारी है। इसके पहले भी अयोध्या में हुए विभिन्न आयोजनों में निजामाबाद के दिये जाते रहे हैं। जीएम डीआईसी प्रवीण मौर्य ने बताया है कि दिये तैयार हैं और इन्हें जल्द ही अयोध्या भेजा जाएगा।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned