आजमगढ़ पुलिस ने 50 लाख की अवैध शराब बरामद किया, सप्लाई के लिए भेजी जा रही थी शराब

आजमगढ़ पुलिस ने 50 लाख की अवैध शराब बरामद किया, सप्लाई के लिए भेजी जा रही थी शराब

Ashish Kumar Shukla | Publish: Aug, 03 2018 06:37:59 PM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

क्राइम ब्रांच व रानी की सराय पुलिस को मिली संयुक्त कामयाबी

आजमगढ़. जनपद की स्वाट टीम व रानी की सराय थाने की पुलिस के संयुक्त प्रयास से शुक्रवार की दोपहर पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी। रानी की सराय क्षेत्र में शंकरपुर चेकपोस्ट के समीप पुलिस ने लगभग 50 लाख कीमत की शराब लदे ट्रक को कब्जे में लेते हुए चालक को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक नगर सुभाषचंद्र गंगवार ने बताया कि जिले की स्वाट टीम प्रभारी राजेश उपाध्याय को जरिए मुखबिर गैर प्रांत से जनपद में आने वाली शराब की खेप के बारे में जानकारी मिली। उन्होंने इस बात से रानी की सराय थानाध्यक्ष शिवशंकर सिंह को अवगत कराते हुए पुलिस के उच्चाधिकारियों को भी इसकी जानकारी दी। शराब तस्करों को दबोचने की रणनीति बनाई गई और शुक्रवार को दिन में रानी की सराय थाना क्षेत्र अंतर्गत शंकरपुर चेकपोस्ट के पास पुलिस ने वाहन चेकिंग शुरू कर दी।

दोपहर करीब 12.30 बजे सरायमीर की ओर से आ रहे ट्रक को पुलिस ने मुखबिर के इशारे पर रोका। पुलिस देख ट्रक का चालक वाहन से कूद कर भागने का प्रयास किया लेकिन उसे दबोच लिया गया। कब्जे में ली गई ट्रक की तलाशी के दौरान ट्रक से लगभग 1000 पेटी गैरप्रांत निर्मित शराब बरामद की गई। इस बाबत पकड़े गए चालक से पूछताछ के दौरान जानकारी मिली कि बरामद शराब हरियाणा प्रांत के पानीपत जनपद से लाई जा रही थी। शराब को बलिया जनपद तक पहुंचाना था। इसके बाद शराब को छोटे शराब तस्करों के माध्यम से बिहार प्रांत में बेचा जाता। मौके पर आबकारी निरीक्षक सदर नंदलाल चौरसिया को बुलाया गया। उन्होंने बरामद शराब की अनुमानित लागत 50 लाख रुपए बताया। पकड़ा गया ट्रक चालक फरीद खान पुत्र शरीफ खान मध्य-प्रदेश के खरगोन जिला अंतर्गत करसावल थाना क्षेत्र के नीबूरानी गांव का निवासी बताया गया है।

पूछताछ के दौरान चालक ने बताया कि ट्रक को गंतव्य तक पहुंचाने के लिए शराब तस्कर ट्रक के आगे- पीछे छोटे वाहनों से चल रहे थे, जो गिरफ्तारी के दौरान भागने में कामयाब रहे। इस संबंध में एसपी सिटी ने बताया कि इस उपलब्धि को हासिल करने वाली पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक द्वारा दस हजार रुपए पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। शराब के अवैध कारोबार में संलिप्त लोगों के बारे में पुलिस जानकारी एकत्र कर रही है। शराब के अवैध धंधे में लिप्त लोगों के बारे में जानकारी प्राप्त कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned