फिल्म के मर्डर-मिस्ट्री की तरह है प्रतिभा के हत्या की कहानी, मां और छोटी बहन पर लगा था आरोप, अब पुलिस के खुलासे ने उड़ा दी नींद

आजमगढ़ के इस हत्याकांड को बेहद ही शातिराना ढंग से अंजाम दिया गया

By: Hariom Dwivedi

Published: 10 May 2020, 11:52 AM IST

आजमगढ़. एक शादीशुदा युवती फोन पर प्रेमी से बात करती है और कुछ घंटों के अंदर ही उसकी सिर कूचकर हत्या हो जाती है। घटना के बाद उसकी बहन घर में मिलती है लेकिन हाथ पैर बंधा होता है। पिता मृतका की बहन और मां को ही हत्यारोपी बना देता है, लेकिन पूछताछ के बाद जो कहानी सामने आती उसे सुन लोगों केे होश उड़ जाता है। कहानी भी ऐसी कि हारर फिल्म की मर्डर मिस्ट्री को मात दे दे। कारण कि इस हत्याकांड को बेहद ही शातिराना ढंग से अंजाम दिया गया था।

घटना अहरौला थाना क्षेत्र के रेड़हा कोतवालीपुर गांव की है। उक्त गांव निवासी रमाशंकर चौहान ने अपनी पुत्री प्रतिभा 28 की शादी 10 वर्ष बिलरियागंज थाना क्षेत्र के लंगड़पुर गांव निवासी प्रमोद चैहान से की थी। प्रतिभा के दो पुत्र भास्कर 10 व आदित्य 6 वर्ष है। प्रमोद रोजी रोटी के लिए सउदी अरब रहता है। पति के जाने के बाद से ही प्रतिभा अपने दोनों बच्चोें के साथ मायके में रहने लगी। मायके में प्रतिभा को गांव के ही एक युवक से प्रेम हो गया। यह मामला इतना बढ़ गया कि पांच माह पहले प्रतिभा और उसके प्रेमी भागकर बिहार के धनबाद चले गए। कोराना संक्रमण शुरू होने के बाद लाकडाउन शुरू होने के पूर्व ही वह मायके लौट आई। परिवार के लोेगों ने उसे स्वीकार भी कर लिया। कुछ दिन बात ही प्रतिभा की फिर प्रेमी से बात शुरू हो गयी। इसे लेकर परिवार में कलह होने लगी। गुरुवार की रात प्रेमी से फोन पर बात को लेकर प्रतिभा का उसकी मां और छोटी बहन से विवाद हुआ फिर वह सोने चली गयी।

रात में करीब एक बजे प्रतिभा की हथौड़े व टांगी से प्रहार कर हत्या कर दी गयी। घर में सिर्फ प्रतिभा और उसकी छोटी बहन संध्या थी। उसकी मां नीता और पिता रमाशंकर चौहान बाहर सोये थे। रमाशंकर ने नीता और संध्या पर हत्या का आरोप लगाया। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया लेकिन जब अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण एनपी सिंह मौके पर पहुंचे और घटना की छानबीन की तो चौंकाने वाला तथ्य सामने आया।

पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा
खुद रमाशंकर ने बताया कि आधी रात के बाद जब घर के भीतर से दरवाजा पीटने की आवाज आयी तो उन्होंने भीतर जाकर देखा तो प्रतिभा की लाश पड़ी थी और बगल में छोटी बेटी बांधकर छोड़ी गयी थी। इस कहानी के बाद पुलिस को लगा कि हत्या मां ने की होगी लेकिन जब मां ने पुलिस को यकीन दिलाया कि वह अपने खून को इतने बेदर्दी से नहीं मिटा सकती तो पुलिस ने नए सिरे से सोचना शुरू किया और फिर जो कहानी सामने आयी सुनकर लोगों के होश उड़ गए। कारण कि इस हत्याकांड की मास्टरमाइंड कोई और नहीं बल्कि लाश के पास बांधकर छोड़ी गयी संध्या थी। हत्या उसके प्रेमी ने की थी। गांव के ही रहने वाले प्रेमी संदीप के मुताबिक संध्या ने उसे खुद मिलने के लिए घर बुलाया था। उसकी दीदी ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में देेख लिया। वह पहले भी दोनोें के मिलने का विरोध करती रही थी। इसलिए संध्या के कहने पर दोनों ने मिलकर प्रतिभा की हत्या कर दी और संध्या को इसलिए बांधकर दरवाजे की तरफ ढकेल दिया ताकि उस पर किसी को शक न हो लेकिन संध्या ने खुद को बचाने के लिए अपनी मां को उसका नाम बता दिया। बहरहाल पुलिस ने प्रेमी प्रेमिका को हिरासत में ले लिया है।

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned