रमजान में रोजेदारों को मिलेंगी यह खास सहूलियतें लेकिन नहीं कर सकेंगे यह काम

घरो में ही अता की जाएगी पांचों वक्त की नमाज व तराबीह
रमजान में खुल सकेंगी अंडा और खजूर की दुकानें
डीएम ने अधिकारियों व धर्मगुरूओं के साथ बैठक कर बताई सरकार के जारी एडवाइजरी

By: Mahendra Pratap

Published: 23 Apr 2020, 12:55 PM IST

आजमगढ़. रमजान का महीना शुरू होने वाला है और मुस्लिम समुदाय के लोग इसकी तैयारी में जुटे हैं लेकिन हर बार की तरह इस बार रोजेदारों को आजादी नहीं मिलेगी। उन्हें रमजान के वक्त लॉक डाउन 2.0 के कड़े नियमों का पालन करना होगा। रोजेदार इस बार रमजान में पांचों वक्त की नमाज व तराबीह घर में ही पढ़ेगे। मस्जिद में इबादत पर पूरी तरह पाबंदी होगी। वैसे रमजान में अंडा और खजूर सहित जरूरी सामानों की दुकानें खुली रहेंगी।

कोरोना के संक्रमण के चलते प्रदेश में 3 मई तक लॉक डाउन 2.0 है। लॉक डाउन के बीच ही रमजान माह 25 या 26 अप्रैल को शुरू होगा। मुस्लिम समाज के लोगे रमजान माह की तैयारी में जोर शोर से जुटे है। गर्मी को देखते हुए जरूरी समानों की खरीदारी पहले ही करने की कोशिश हो रही है। कोराना संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने पहले ही मंदिर में पूजा और मस्जिद में नमाज पर रोक लगा दिया है। इस बार नवरात्र में किसी मंदिर का पट नहीं खुला।

नमाज के लिए गाइडलाइन :- अब रमजान पर भी यह व्यवस्था लागू रहेगी। सरकार की जारी गाइडलाइन के अनुसार रमजान माह में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन करेंगे। पांचों वक्त की नमाज व तराबीह घर में ही पढ़ी जाएगी। जिलाधिकारी ने मुस्लिम धर्मगुरूओं व मदरसों के नाजिमों के साथ बैठक कर इस संबंध में जानकारी दे दी है। जिस पर सभी धर्मगुरूओं ने अपनी सहमति व्यक्त किया और अपने स्तर से समाज के लोगों को इसके लिए राजी करने का आश्वासन दिया।

मुस्लिम धर्मगुरूओं ने मांगी रियायतें :- बैठक में मुस्लिम धर्मगुरूओं ने भी जिला प्रशासन से कुछ जरूरी रियायतें देने की मांग की। जिसमें किराना, फल व सब्जी आदि की दुकानों को दिन में दो बार खोले जाने की मांग शामिल रही। धर्म गुरूओं की तरफ से इस बाबत सुबह सात से दस व शाम में दो से पांच का समय दिया गया। इसके बाद डीएम ने अधिकारियोें के साथ बैठक कर निर्णय लेने की बात कही। अभी प्रशासन ने दोनों टाइम दुकान खोलने पर कोई फैसला नहीं लिया है लेकिन यह तय किया गया है कि अंडा और खजूर की दुकानें भी सब्जी व अन्य जरूरी सामानों के साथ खुल सकेंगी।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned