सउदी अरब में बंधक है आजमगढ़ का लाल, मदद की दरकार

सउदी अरब में बंधक है आजमगढ़ का लाल, मदद की दरकार
Amarnath giri

पिता ने अधिकारियों से लेकर विदेश मंत्रालय तक लगाई गुहार,  सभी अभिलेख उपलब्ध पर कार्रवाई नहीं

आजमगढ़. रोजी-रोटी के लिए सउदी अरब के जेद्दा शहर गया जिले का युवक भूखों मर रहा है। अरबी न उसे काम दे रहा है और ना ही भोजन। यही नहीं युवक को बंधक बनाकर रखा गया है। उसे स्वदेश लौटने की अनुमति भी नहीं दी जा रही है। युवक के पिता ने अधिकारियों से लेकर विदेश मंत्रालय तक गुहार लगायी। सभी अभिलेख भी उपलब्ध कराये गये लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गयी। 



बुधवार को एसपी कार्यालय पहुंचे मुबारकपुर थाना क्षेत्र के बिंद मठिया गांव निवासी रामबुझारत गिरी पुत्र शंकर गिरी ने आरोप लगाया कि उनका पुत्र अमरनाथ सात जून 2013 को सउदी अरब के जेद्दा शहर नौकरी के लिए गया। वहां वह मोहम्मद अबु तालिब अल सैयद के यहां नौकरी करता था। अल सैयद द्वारा डेढ़ वर्ष तक काम दिया गया। इसके बाद उसने काम देना बंद कर दिया। परिणाम रहा कि अमरनाथ के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया। वह अमरनाथ को कहीं और काम नहीं करने देता। ना ही उसे भारत ही आने दे रहा है। 



इस संबंध में 25 जून 2016 को विदेश मंत्री को सारे अभिलेख उपलब्ध कराये गये अमरनाथ गिरी को विदेश वापस मंगाने के लिए गुहार लगायी गयी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिस एजेंट ने उसे विदेश भेजा था वह बात करने तक तैयार नहीं है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned